लंदन के वेस्टमिंस्टर आतंकी हमले के 2 और संदिग्ध गिरफ्तार

लंदन: वेस्टमिंस्टर में हुए आतंकवादी हमले में दो और ‘महत्वपूर्ण गिरफ्तारियां’ की गई हैं। साथ ही जांचकर्ता आठ अन्य संदिग्धों से पूछताछ कर रहे हैं, जिन्हें ब्रिटेन के कई हिस्सों में मारे गए छापों में पहले गिरफ्तार किया गया था।

ब्रिटेन की मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने कहा है कि इस्लामिक स्टेट (आईएस) आतंकवादी समूह ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है, और इस हमले में मृतकों की संख्या बढ़कर पांच हो गई है, जिसमें हमलावर भी शामिल है। हमले में घायल 75 वर्षीय लेस्ली रोड्स का गुरुवार शाम निधन हो गया।

टेलीग्राफ की रपट के मुताबिक, पुलिस अधिकारियों ने हमलावर की पहचान 52 वर्षीय धर्मपरिवर्तित ब्रिटिश मुस्लिम खालिद मसूद के रूप में की है, जिसका पहले का नाम एड्रियन एलम्स था और वह केंट में पैदा हुआ था। वह वेस्टमिंस्टर हमले के दौरान ही पुलिस की गोलीबारी में मारा गया।

हमलावर मसूद तीन बच्चों का पिता था और वह अपने आप को अंग्रेजी का अध्यापक बताता था। बुधवार को हमला करने से कुछ घंटे पहले, उसने ब्राइटन में प्रेस्टन पार्क होटल के कर्मचारी से कहा था, ”लंदन वैसा नहीं है, जैसा उसे होना चाहिए।” वह इसी होटल में रह रहा था।

मसूद ने वेस्टमिन्स्टर ब्रिज पर तेजी से अपनी कार दौड़ा दी और लोगों को रौंद दिया, जिसमें दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इसके बाद उसने ब्रिटिश संसद भवन के अहाते से अपनी कार टकरा दी। जब पुलिसवालों ने उसे रोकने की कोशिश की तो उसने पुलिस अधिकारी कीथ पाल्मर को चाकू मार दिया, जिसमें उनकी मौत हो गई। इस दौरान पुलिस की जबावी कार्रवाई में हमलावार मारा गया। इस दौरान तीन पुलिसवाले घायल हो गए, जिसमें से दो की हालत गंभीर है। इस हमले के पीड़ितों में ब्रिटेन, फ्रांस, रोमानिया, दक्षिण कोरिया, ग्रीक, जर्मनी, पोलैंड, आयरलैंड, चीन, इटली और अमेरिका के लोग शामिल हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.