चीन ने सिल्क रोड फोरम मामले में अमेरिकी चेतावनी को नजरअंदाज किया

बीजिंग: चीन ने उत्तर कोरिया के बारे में अमेरिकी चेतावनी को नजरअंदाज करते हुए आज कहा कि वह रविवार और सोमवार को यहां नई सिल्क रोड योजना के लिए आयोजित फोरम में हिस्सा लेने वाले सभी देशों का स्वागत करेगा ।चीन की तरफ से यह बयान ऐसे समय आया है जब कुछ दिन पहले ही अमेरिका ने चीन को इस बात के लिए चेताया था कि इस फोरम में उत्तर कोरिया की उपस्थिति से अन्य देशों के फोरम में भाग लेने पर असर पड़ेगा।

इस स्थिति से अवगत दो उच्च पदस्थ सूत्रों ने बताया कि बीजिंग में अमेरिकी दूतावास ने इस संबंध में चीन के विदेश मंत्रालय को एक कूटनीतिक नोट के माध्यम से बताया कि जब पूरी दुनिया उत्तर कोरिया पर उसके मिसाइल और परमाणु परीक्षण के खिलाफ उसपर दबाव बना रही है तो ऐसे वक्त में उसे इस फोरम में बुलाने से गलत संदेश जाएगा।

इस संबंध में अमेरिकी टिप्पणी के बारे में संवाद समिति रायटर के पूछे जाने पर चीन के विदेश मंत्रालय ने एक वक्तव्य में कहा कि,’अमेरिका इस स्थिति को समझ नहीं रहा है।’ वक्तव्य के अनुसार सिल्क रोड का निर्माण एक खुली और संयुक्त पहल है। हम अंतरराष्ट्रीय सहयोग के लिए इस फोरम में सभी देशों के प्रतिनिधियों का स्वागत करते हैं।

मंत्रालय ने इसके अलावा अन्य कोइ जानकारी नहीं दी । इससे पहले मंत्रालय ने मंगलवार को कहा था कि उत्तर कोरिया इस सम्मेलन में अपने प्रतिनिधि को भेजेगा। इस बारे में और कुछ नहीं बताया गया था।
चीन ने हालांकि इस बात की घोषणा नहीं की है कि उत्तर कोरिया की ओर से कौन सा मुख्य प्रतिनिधि इस फोरम में भाग लेगा । हालांकि उत्तर कोरिया की संवाद समिति योनहाप ने बताया कि उत्तर कोरिया के विदेशी आर्थिक मामलों के मंत्री किम योंग जे इस फोरम में उत्तर कोरियाई प्रतिनिधि के रूप में शामिल होंगे।

कल से शुरू होने वाली दो दिवसीय फोरम में 29 देशों को प्रतिनिधि शामिल होंगे। सभी देशों के प्रतिनिधि कल दोपहर व्यापार और वित्त संबंधी योजनाओं पर बारी-बारी से सत्र संबोधित करेंगे।वहीं कुछ पि>मी राजनयिकों ने इस सम्मेलन के संबंध में असहजता दिखाते हुए कहा है कि यह वैश्विक स्तर पर चीन की ताकत दिखाने का एक जरिया है। जबकि चीन ने इन आरोपों को खारिज करते हुए कहा है कि यह योजना सभी के लिए है और इसका उद्देश्य समृद्धि लाना है।चीन की सरकारी संवाद समिति शिन्हुआ ने आज कहा कि पि>मी देशों की ओर से बड़े पैमाने पर नजरअंदाज की जाने वाली यह सिल्क रोड विकासशील देशों के लिए वरदान साबित होगी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.