चीन द्वारा श्रीलंका को सौंपा गया रक्षक जहाज कोलंबो बंदरगाह पहुंचा

बीजिंग: श्रीलंकाई नौसेना को चीन की सहायता के रूप में 8 जुलाई की सुबह सौंपा गया रक्षक जहाज पी 625 कोलंबो बंदरगाह पहुंच गया है। श्रीलंकाई नौसेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल पियाल दे सिल्वा ने स्वागत समारोह में चीनी पक्ष से यह जंगी जहाज प्रदान करने का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा, ”वर्तमान में श्रीलंका की समुद्री सुरक्षा विभिन्न चुनौतियों का सामना कर रही है। गैर कानूनी तत्व श्रीलंका के समुद्र में मादक पदार्थ तस्करी जैसे काम कर कानून का उल्लंघन कर रहे हैं। पी 625 की हिस्सेदारी से श्रीलंकाई नौसेना की समुद्री सुरक्षा करने की क्षमता को मजबूती मिली है।”

श्रीलंका स्थित चीनी राजदूत छंग सीयुआन ने बताया कि चीन सरकार और जनता पहले की तरह श्रीलंकाई सरकार और जनता के साथ खड़े होकर आतंकवाद समेत सभी अपराधों पर मिलकर प्रहार करेगी। पी 625 रक्षक जहाज का निर्माण वर्ष 1994 में हुआ था, जो भविष्य में मुख्य तौर पर समुद्री गश्ती, पर्यावरण निगरानी और समुद्री लुटेरों पर प्रहार करने में कारगर है। श्रीलंका स्थित चीनी दूतावास के अनुसार, चीनी नौसेना ने इसके पहले श्रीलंकाई नौसेना के 110 ऑफिसरों और नाविकों को प्रशिक्षण दिया है और बाद में श्रीलंका की जरूरत पर और प्रशिक्षण प्रदान करेगी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.