केन्या में आतंकी हमले में 14 की मौत, समूह अल-शबाब ने ली जिम्मेदारी

नैरोबी: केन्या के राष्ट्रपति उहुरू केन्याटा ने बुधवार को कहा कि देश की राजधानी में आतंकियों के हमले के शिकार घटनास्थल को मुक्त करवा लिया गया है और सभी हमलावरों को मार गिराया गया है। उन्होंने आतंकी हमले में 14 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की।नैरोबी के पॉश वेस्टलैंड इलाके में स्थित डूसिटडी-2 होटल परिसर, दुकानों व दफ्तरों वाले समृद्ध बाजार में मंगलवार को किए गए आतंकी हमले की जिम्मेदारी सोमालिया स्थित आतंकवादी समूह अल-शबाब ने ली है। केन्याई पुलिस प्रमुख जोसेफ बोइनेट ने ‘सीएनएन’ को बताया कि हमला परिसर के भीतर एक बैंक से शुरु हुआ।

पार्किंग में खड़े तीन वाहनों में धमाके हुए। उसके बाद डूसिट होटल के प्रवेश द्वार पर एक आत्मघाती हमला किया गया।इसके बाद कई बंदूकधारियों ने परिसर पर कब्जा कर लिया जिससे पूरी रात गतिरोध बना रहा और लोग भवनों के विभिन्न हिस्सों में फंसे रहे।राष्ट्रपति ने टेलीविजन पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा, ”हम अब इस बात की पुष्टि कर सकते हैं कि डूसिट में सुरक्षाकर्मियों का अभियान खत्म हो गया है और सभी आतंकवादियों को मार गिराया गया है।” उन्होंने बताया कि हमले में 14 लोग मारे गए हैं।रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को तड़के 100 से अधिक लोगों को छुड़ाया गया। करीब 30 लोगों का नैरोबी के अस्पतालों में इलाज चल रहा है।

आंतरिक मामलों के मंत्री फ्रेड मैटियांगी ने कहा, ”लोगों को अब कोई खतरा नही है।” उन्होंने कहा कि एक भवन से सुरक्षा बलों द्वारा लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है और सभी भवनों और आपसपास के इलाके अब सुरक्षित हैं। अमेरिका ने मृतकों में एक अमेरिकी नागरिक के शामिल होने की पुष्टि की है। एक ब्रिटिश नागरिक के भी मारे जाने की आशंका है। इससे पहले 2013 में अल-शबाब आतंकियों ने वेस्टगेट के शॉपिंग सेंटर को निशाना बनाया था, जिसमें कई दिनों तक बंधक बनाने के बाद 67 लोगों की हत्या कर दी गई थी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.