एनआईए के 3 अधिकारियों पर ब्लैकमेलिंग का आरोप, जांच जारी

नई दिल्ली: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के तीन अधिकारियों पर ब्लैकमेलिंग का आरोप लगाए जाने के बाद उन्हें विभागीय जांच का सामना करना पड़ रहा है। इन अधिकारियों में एक पुलिस अधीक्षक भी शामिल हैं। एजेंसी ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली के एक व्यवसायी ने शिकायत दर्ज कराई है कि मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद से जुड़े एक टेरर फंडिंग मामले में उसका नाम नहीं लेने के बदले में उससे दो करोड़ रुपये की मांग की गई थी। मामले की जांच पूरी होने तक अधिकारियों का आतंकवाद निरोधक एजेंसी से तबादला कर दिया गया है।

एनआईए को अधिकारियों के खिलाफ कदाचार की एक शिकायत मिली है। एनआईए के प्रवक्ता ने कहा, ”आरोपों की जांच एक उप-महानिरीक्षक स्तर के अधिकारी द्वारा की जा रही है। इस बीच, निष्पक्ष जांच सुनिि>त करने के लिए तीनों संबंधित अधिकारियों का तबादला कर दिया गया है।” एनआईए को पुलिस अधीक्षक और दो जूनियर अधिकारियों के बारे में एक महीने पहले शिकायत मिली थी। ये अधिकारी पाकिस्तान स्थित आतंकवादी समूह लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख हाफिज सईद द्वारा संचालित फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन (एफआईएफ) की जांच कर रहे थे।

एनआईए के एक अधिकारी ने कहा, ”हमने भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति बनाए रखने के लिए अधिकारियों के खिलाफ जांच शुरू की है। भ्रष्टाचार में लिप्त पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।” अधिकारी ने बताया कि पुलिस अधीक्षक 2007 समझौता एक्सप्रेस विस्फोट मामले के मुख्य जांच अधिकारी थे, जबकि एनआईए के खुफिया और संचालन विंग से दो अन्य जांच अधिकारी थे। उन्होंने बताया कि अधिकारियों ने उत्तरी दिल्ली के एक व्यापारी को जांच के दायरे में लाया था। फिलहाल अधिकारियों और व्यवसासी के नाम उजागर नहीं किए गए हैं।

एनआईए ने पिछले साल एफआईएफ के उप प्रमुख शाहिद महमूद और अन्य के खिलाफ धार्मिक कार्य की आड़ में 2012 के आसपास दिल्ली और हरियाणा में स्लीपर सेल और लॉजिस्टिक्स बेस बनाने के लिए साजिश रचने का मामला दर्ज किया था। मामला दर्ज करने के बाद एनआईए ने दिल्ली निवासी मोहम्मद सलमान और मोहम्मद सलीम को गिरफ्तार किया था। इसके बाद एजेंसी ने राजस्थान के नागौर निवासी मोहम्मद हुसैन मोलानी को गिरफ्तार किया। एनआईए ने जुलाई में संयुक्त अरब अमीरात से वलसाड (गुजरात) के व्यापारी मोहम्मद आरिफ गुलामबाशिर धरमपुरिया को निर्वासित किया था।

एनआईए ने इस मामले में हाफिज सईद सहित अन्य आरोपियों के खिलाफ दो आरोपपत्र दायर किए हैं।एजेंसी ने एक 43 वर्षीय व्यक्ति मोलानी को आपराधिक साजिश रचने और गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत हाल ही में 18 जुलाई को चार्जशीट दायर की थी।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.