भाजपा ने जींद विधानसभा सीट जीती, कांग्रेस व आईएनएलडी की करारी हार

चंडीगढ़: भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा और विधानसभा चुनावों से ठीक पहले हरियाणा की जींद विधानसभा सीट पर गुरुवार को 12,935 वोटों के अंतर से जीत दर्ज कर राज्य में अपनी पकड़ के मजबूत होने का संकेत दिया।भाजपा उम्मीदवार कृष्ण लाल मिड्ढा को 50,566 वोट मिलने के बाद विजेता घोषित किया गया। अगले विधानसभा चुनावों से पहले विजेता मिड्ढा का कार्यकाल केवल नौ महीने का होगा। यह पहली बार है जब भाजपा ने जाट समुदाय की असर वाली जींद विधानसभा सीट पर जीत हासिल की है। हालांकि, कृष्णलाल मिड्ढा जाट समुदाय से नहीं हैं।

इस जीत से खुश मुख्यमंत्री मनोहर लाल खप्तर ने चंडीगढ़ में कहा, ”लोगों ने एक बार फिर राज्य और केंद्र में भाजपा सरकार की नीतियों, शासन और पारदर्शिता पर अपना विश्वास जताया है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने कड़ी मेहनत की।” दो बार के इंडियन नेशनल लोकदल (आईएनएलडी) विधायक हरिचंद मिड्ढा के पिछले साल अगस्त में निधन के कारण यह उपचुनाव हुआ जिसे उनके बेटे कृष्णलाल मिड्ढा ने जीता।हाल ही में गठित जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) ने इस उपचुनाव में प्रभावशाली शुरुआत की। वह दूसरे स्थान पर रही। जेजेपी के युवा उम्मीदवार दिग्विजय सिंह चौटाला को 37,631 वोट मिले।

कांग्रेस ने चुनाव मैदान में ‘मजबूत प्रत्याशी’ रणदीप सुरजेवाला को उतारा था जो मात्र 22,740 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर रहे।पिछले दो विधानसभा चुनावों में जींद सीट जीतने वाली इंडियन नेशनल लोकदल इस बार बुरी तरह से हारी। वह पांचवें स्थान पर रही और उसे केवल 3,454 वोट मिले।बागी भाजपा सांसद राज कुमार सैनी द्वारा शुरू की गई लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी (एलएसपी) 13,582 वोटों के साथ चौथे स्थान पर रही।
उपचुनाव के लिए मतदान 28 जनवरी को हुआ था जिसमें 1.72 लाख मतदाताओं में से लगभग 76 प्रतिशत ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था। हरियाणा पुलिस और अर्धसैनिक बलों ने मतगणना के दौरान जींद में विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए बल प्रयोग किया।

कुछ ईवीएम (इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन) के सीरियल नंबर सूची के साथ मेल नहीं खा रहे थे और इस पर मतगणना केंद्र के अंदर चुनावी उम्मीदवारों द्वारा आपत्ति जताई गई थी।यह खबर जैसे ही विभिन्न दलों के कार्यकर्ताओं तक पहुंची, जींद शहर में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया जिसके बाद पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने के लिए बल प्रयोग किया।ईवीएम से संबंधित शिकायत पर कुछ समय के लिए मतगणना प्रक्रिया रोक दी गई थी लेकिन बाद में इसे फिर से शुरू कर दिया गया।खप्तर ने कहा कि हरियाणा में लोग भाजपा को वोट देंगे और पार्टी सभी 10 लोकसभा सीटों के साथ-साथ इस साल विधानसभा चुनाव भी जीतेगी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.