दिल्ली के अर्पित पैलेस होटल में लगी भीषण आग, 17 लोगों की मौत

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी के करोल बाग इलाके में पांच मंजिला अर्पित पैलेस होटल में मंगलवार तड़के भीषण आग लग गई। इस हादसे में 17 लोगों की मौत हो गई। हादसे में घायल कई लोगों की हालत गंभीर है। अधिकारियों ने बताया कि मरने वालों में कम से कम दो महिलाएं और एक बच्चा भी शामिल है। आग पर काबू पाने के लिए दमकल की दर्जनों गाड़ियां पहुंचीं। पुलिस उपायुक्त मंदीप रंधावा ने आईएएनएस को बताया कि तड़के चार बजे आग लगने के बाद होटल से करीब 35 लोगों को बचाया गया।दिल्ली अग्निशमन सेवा के अधिकारी जी.सी. मिश्रा ने कहा कि ज्यादातर लोगों की मौत दम घुटने से हुई। उन्होंने कहा कि मरने वालों की संख्या और बढ़ सकती है क्योंकि कुछ घायलों की स्थिति गंभीर है।

होटल में बेसमेंट, ग्राउंड फ्लोर और चार मंजिलें हैं। एक परिवार ने होटल के 35 कमरे बुक किए हुए थे।ज्यादातर नुकसान दूसरी और चौथी मंजिलों पर हुआ है। केवल बेसमेंट और ग्राउंड फ्लोर आग की चपेट में नहीं आए।मिश्रा ने कहा कि प्रथमदृष्टया हादसे की वजह शॉर्ट सर्किट होना मालूम पड़ रहा है। उन्होंने कहा, ”जब दमकल की गाड़ियां मौके पर पहुंचीं, तो आग की लपटें इमारत से बाहर निकल रही थीं। उस समय भी कई लोग गहरी नींद में सो रहे थे।” दोपहर तक आग पर काबू पा लिया गया था और अग्निशमनकर्मियों ने सभी कमरों और शौचालयों की तलाशी ली ताकि यह सुनिि>त किया जा सके कि कोई फंसा हुआ न हो।

घबराए हुए बचे लोग जिनके पास सिर्फ कपड़े रह गए, उन्होंने शिकायत की कि अग्निशमन उपकरण होटल में सहजता से उपलब्ध नहीं थे और लकड़ी के पैनलों ने आग की लपटों को तेजी से फैलने में मदद की।एक शख्स ने कहा कि आग से बचकर निकलने के लिए कोई निकासी योजना की व्यवस्था नहीं थी। होटल पूरी तरह भरा था और इसमें कुछ विदेशी पर्यटक भी रुके हुए थे। पुलिस ने कहा कि वे होटल के मालिक को तलाश कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हादसे पर शोक जताया है। उन्होंने ट्वीट किया, ”दिल्ली के करोल बाग में आग की वजह से लोगों की मौत से बेहद दुखी हूं। मृतकों के परिवारों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करता हूं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं।” दिल्ली सरकार ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं।

दिल्ली सरकार के आवास एवं शहरी विकास मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि होटल ने निर्माण मानदंडों का उल्लंघन किया था और जितनी मंजिल बनाने की इजाजत थी, उससे ज्यादा बना ली गई थीं।दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मालिक के पास होटल व बार चलाने का वैध लाइसेंस है या नहीं, इसकी जांच की जाएगी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.