झारखंड में बारिश के वजह से कई टूटा डायवर्सन, नदियां उफान पर, अलर्ट जारी

रांची: झारखंड की राजधानी रांची समेत राज्यभर में पिछले तीन-चार दिनों से रुक-रुक कर हो रही लगातार बारिश से सामान्य जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। लगातार हो रही बारिश से कई नदियां उफान पर है, जबकि निचले और नदियों के तट पर रहने वाले लोगों को विशेष सतर्कता बरतने की सलाह दी गयी है।

मौसम विभाग की ओर से अगले 48 घंटों के दौरान पूरे राज्य में मॉनसून के सक्रिय रहने और कुछ जगहों पर भारी बारिश की चेतावनी भी जारी की है। 1 जून से लेकर 23 जुलाई तक राज्य में करीब 371 मिमी बारिश हुई है, जो औसत से 17 प्रतिशत कम है। प्रारंभ में राज्य में सामान्य से करीब 36 प्रतिशत कम बारिश का रिकॉर्ड दर्ज किया गया था, लेकिन जुलाई महीने के पहले पखवाड़े में अच्छी बारिश से स्थिति में काफी सुधार हुआ है।राजधानी रांची में दो दिनों में लगभग 100 मिमी बारिश हुई, जबकि सबसे अधिक बारिश जमशेदपुर में हुई,जां दो दिनों में 154 मिमी बारिश हो चुकी है।

जमशेदपुर के विभिन्न हिस्सों में लगातार हो रही बारिश के कारण एनएच-33 पर डायर्वसन बह जाने के कारण दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गयी है। बताया गया है कि पश्चिम बंगाल और उड़ीसा से जोड़ने वाली इस सड़क पर डायर्वसन बह जाने के कारण वाहनों की 22किमी लंबी कतार लगी हुई है और झारखंड का दोनों राज्यों से इस मार्ग से संपर्क टूट गया है। 24 घंटे से अधिक समय से वाहनों के फंसे रहने के कारण वाहन चालकों में भी हड़कंप मच गया है और भोजन व पानी नहीं मिलने से लोग परेशान है, जबकि जिला प्रशासन की ओर से वैकल्पिक व्यवस्था का निर्देश दिया गया है। उपायुक्त ने जाम में फंसे लोगों को तत्काल राहत उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। जिसके तहत प्रशासन और स्थानीय थाने की ओर से सूखा भोजन और बोतलबंद पानी जाम में फंसे लोगों को उपलब्ध कराया जा रहा है।

इस बीच पड़ोसी राज्य उड़ीसा के व्यगविल डैम का एक फाटक खोल देने से स्वर्णरेखा और खरकई नदी उफान पर है। दोनों नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। जमशेदपुर के बागबेड़ा के नया बस्ती में 50 से अधिक घरों में खरकई नदी का पानी घुस आया है। जिला प्रशासन की ओर से निचले इलाके में रहने वाले लोगों के लिए हाई अलर्ट जारी किया गया है और सभी को ऊंचे स्थानों पर जाने का निर्देश दिया गया है। संतालपरगना इलाके में भी जमकर बारिश हो रही है। बोकारो में दामोदर नदी भी उफान पर है, वहीं रामगढ़ में भैरवी और दामोदर नदी का भी जलस्तर बढ़ गया है। भैरवी नदी का पानी सेनेगढ़ा पुल से ऊपर से बह रहा है, जिसके कारण रांची-गोला मार्ग बंद हो गया है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.