सरहुल पूर्व संध्या पर सीएम रघुवर दास ने की घोषणा

हर गांव में सरकारी खर्च पर बनेगा अखड़ा- सीएम

रांची: सीएम रघुवर दास ने बुधवार को सरहुल की पूर्व संध्या पर राज्यवासियों को नयी सौगात दी है। उन्होंने सरकारी खर्च पर हर गांव में अखड़ा बनाने की घोषणा की। यह बातें सीएम जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषा विभाग में आयोजित सरहुल मिलन समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि झारखंड के गीत-संगीत को बढ़ावा देने के लिए अखड़ा निर्माण किया जायेगा ताकि भाषा-संस्कृति बची रहे।

संस्कृति जोड़ने का काम करती है, न कि तोड़ने का। उन्होंने यह भी कहा कि अगले वर्ष से तीन दिनों का मोरहाबादी मैदान में जनजातीय सांस्कृतिक महोत्सव का आयोजन किया जायेगा। सीएम श्री दास ने कहा कि नृत्य, संगीत हमारी संस्कृति की पहचान है। सरकार हर गांव में अखड़ा बनायेगी। यहां लोग न केवल अपनी संस्कृति की पहचान बरकरार रख सकेंगे बल्कि मनोरंजन भी कर पायेंगे। प्रत्येक वर्ष यहां प्रतियोगिताओं का आयोजन कराया जायेगा। इसके बाद पंचायत स्तर, प्रखंड स्तर, जिला स्तर पर प्रतियोगिता होगी।

इनमें चयनित कलाकारों को जनजातीय संस्कृति मेला के नाम से मोरहाबादी में तीन दिन की राज्यस्तरीय प्रतियोगिता में पुरस्कृत किया जायेगा। इस मेला के आयोजन से हमारी संस्कृति की पहचान पूरी दुनिया में हो सकेगी। दुनिया आदिवासी संस्कृति, उनकी परम्परा, रीति-रिवाज, रहन-सहन, खान-पान, लोक-कला, लोक-गीत एवं लोक-नृत्य इत्यादि के विषय में जानना चाहती है। इसमें शोध संस्थान एवं तीन दिवसीय जनजातीय संस्कृति मेला अहम भूमिका अदा कर सकता है। इससे पर्यटकों में आकर्षण बढ़ेगा। जिससे हमें विदेशी मुद्रा भी प्राप्त होगी।

  • विद्यार्थियों के अरुचिकर कोर्स बंद किये जायेंगे

सीएम ने कहा कि राज्य के विभिन्न विश्वविद्यालयों में रोजगारोन्मुखी कोर्स शुरु करने की जरूरत है। जिस विषय में विद्यार्थियों की रुचि नहीं है वैसे विषय बंद किये जायेंगे। जनजातीय एवं क्षेत्रीय भाषा के 51 शिक्षकों की सेवा संपुष्टि अगले कैबिनेट में पारित कर किये जाने का भी ऐलान किया। उन्होंने कहा इन भाषाओं के शिक्षकों की नियुक्ति के लिए रोस्टर क्लियर करने का आदेश दिया गया है। सरहुल झारखंड का महत्वपूर्ण प्राकृतिक पर्व है। इसे मिलजुल कर मनायें। आदिवासी संस्कृति के पोषक हैं। अलग राज्य बनाने में आदिवासियों का महत्वपूर्ण योगदान है लेकिन 70 सालों में आदिवासियों की स्थिति सुधरी नहीं है।

  • विकास के लिए शोध संस्थानों को मजबूत किया जायेगा

सीएम श्री रघुवर दास ने कहा कि विकास के लिए शोध जरूरी है। हमारे यहां शोध पर खर्च करने की परंपरा कम रही है। हमारी सरकार ने शोध की महत्ता को देखते हुए शोध संस्थानों को मजबूत करने के लिए जरूरी कदम उठाये हैं। शोध करके न केवल हम अपने अतीत के बारे में जान सकते हैं, बल्कि भविष्य की भी तैयारी में मदद करेगा। उन्होंने कहा कि रिक्तियां सहित अन्य लम्बित मामलों पर कार्रवाई करने का निदेष सचिव, उच्च शिक्षा को दिया गया है।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.