बुढ़मू की छात्राएं छेड़छाड़ के चलते नही आते स्कूल

छात्राओं ने कहा, छेड़छाड़ के चलते नही आते स्कूल
रांची: बुढ़मू ठाकुर गांव स्थित प्रोजेक्ट बालिका उच्च विधालय की छात्राओं ने छेड़छाड़ के चलते स्कूल जाना बंद कर दिया है। छात्राओं का कहना है कि स्कूल आने-जाने के क्रम में मनचले युवकों द्वारा सुनसान रास्ते पर अक्सर छेड़छाड़ की जाती है। उनके अभद्र व्यवहार के चलते स्कूल जाना मुश्किल हो गया है।

स्कूली छात्राओं का कहना है कि वह पढ़ना चाहती हैं। घर वाले भी पढ़ाने को इच्छुक हैं। लेकिन, रास्ते पर शोहदों एवं मनचलों की छेड़छाड़ से स्कूल आने-जाने में कई बाधाओं को पार करना होता है। इससे छात्रायें धीरे-धीरे स्कूल जाना बंद कर रही हैं। इधर, झारखंड छात्र संघ के अध्यक्ष एस अली ने उपायुक्त रांची एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी को पूरे मामले से अवगत कराते हुए कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

श्री अली ने कहा कि इस स्कूल में दूर-दराज के तकरीबन 438 छात्रायें अध्ययनरत हैं। स्कूल आने-जाने के क्रम में कई सुनसान रास्ते पड़ते हैं। इसका लाभ उठाकर स्थानीय मनचले युवक छात्राओं के साथ छेड़छाड़ करते हैं। इससे छात्रायें डरी हुई हैं और स्कूल जाना नहीं चाहती। कई छात्रायें प्रतिदिन आधे रास्ते से ही घर लौट जाती हैं।

भवन जर्जर, नहीं हैं शिक्षक

एस अली ने बताया कि उक्त स्कूल का भवन जर्जर है। कई विषयों के शिक्षक नहीं हैं। छात्राओं को छात्रवृत्ति एवं साईकल योजना का लाभ नहीं मिलता। मौजूदा शिक्षक नियुक्ति में भी कुडुख, उरांव एवं उर्दू भाषा का पद सृजित नहीं किया गया। वहीं, स्कूल में 192 आदिवासी, 6 दलित, 151 पिछड़ा, 19 सामान्य एवं 62 मुस्लिम अल्पसंख्यक छात्रायें अध्ययनरत हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.