हेमंत सोरेन ने रघुवर सरकार की नाकामियां गिनाई

भय, भूख, भ्रष्टाचार, बेरोजगार और बलात्कार, चार वर्ष का है यह रघुवर सरकार

रांची: प्रदेश में सरकार नहीं सर्कस चल रहा है। भय, भूख और भ्रष्टाचार ही इस सरकार की चार सालों में मुख्य उप्लब्धियां रही हैं। इस सरकार में भूमि घोटाला, कंबल घोटाला और निविदा घोटाला जैसे काम ही इन सालों में हुए हैं। यह बातें नेता प्रतिपक्ष सह झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन ने कही। वह राज्य सरकार के चार वर्ष पूरा होने पर संवाददाता सम्मलेन कर सरकार की नाकामियों को गिना रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रवासी मुख्यमंत्री के चार साल में यह सब ही हो रहा है। किसानों का कर्ज़ माफ करने, मनरेगा और आवासों के लिए पैसा नहीं है। लेकिन विदेशों में महंगे मंच और टेंटों पर सरकार पानी की तरह पैसा बहा रही है। इन चार सालों में भाजपा की सरकार ने झारखंड को सिर्फ लूटा है। उन्होंने दावा किया कि अगले चुनाव में बीजेपी की हालत छत्तीसगढ़ से भी बुरी होने वाली है। मोजुदा सरकार के खिलाफ जनता में आक्रोश है। 2019 के चुनाव में यहाँ के युवा, किसान और आदिवासी समाज इन्हें सबक सिखायेगी।

प्रचार-प्रसार से चमकाया सिर्फ अपना चेहरा 

हेमंत ने कहा कि इन चार सालों में सरकार ने सिर्फ प्रचार में अपना चेहरा चमकाया है। बिजली के खम्भों पर पोस्टर लटकाना काम समझ रहे हैं। इन चार साल में 323 करोड़ रूपये को प्रचार प्रसार में फूंका दिया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार के पास इन सब का कोई हिसाब नहीं है। इतनी राशि तो कई विभागों के बजट भी नहीं है।

फर्जी मुठभेड़ के नाम पर आदिवासियों पर चलवाई गोली

हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार आदिवासियों की बात करती है, लेकिन इस सरकार ने आदिवासियों पर गोलियां बरसाने का काम किया है। फर्जी मुठभेड़ के नाम पर गरीब और निर्दोष लोगों की हत्या हो रही है। उन्होंने कहा कि सरकार कई भ्रष्ट अफसरों को संरक्षण दे रही है। इस वजह से इन चार सालों में झारखंड रसातल में चला गया है। एनसीईआर की रिपोर्ट के अनुसार झारखंड में निवेशकों के लिए 21 राज्यों में सबसे नीचे से मात्र एक पायदान उपर है।

युवाओं को नशे में रखने के लिए मॉल में मिलेगा शराब 

हेमंत ने कहा कि रघुवर सरकार मॉल और डिपार्टमेंटल स्टोर में भी शराब बेचने जा रही है। यह युवाओं को शराब पीला कर बेरोजगार रखने की साजिश है। यहां के युवाओं को नौकरी के नाम पर बाहर भेजा जा रहा है और छत्तीसगढ़ के लोगों को यहां रोजगार दी जा रही है।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.