न्यूक्लियस मॉल में मस्ती कर रहा बच्चा रेलिंग से गिरा, मौत

कोतवाली थाना में पदस्थापित हैं मृत पार्थिव साह की मां दुर्गा साह

खबर मन्त्र संवाददाता
रांची। न्यूक्लियस मॉल में रिश्तेदारों साथ मस्ती कर रहे बच्चे पार्थिव साह की रेलिंग से गिरने के कारण मौत हो गयी। पार्थिव द्वितीय तल्ले की रेलिंग से ग्राउंड फ्लोर में गिरा। घटना शनिवार की शाम करीब छह बजे की है। बच्चे की रेलिंग से गिरने की आवाज इतनी जोरदार थी कि आसपास के लोग अचानक चौंक गये। ग्राउंड फ्लोर में पूरा फर्स खून-खून हो गया। आनन-फानन में बच्चे को साथ लेकर पहुंचे फूफा राजेश प्रसाद द्वितीय तल्ले से ग्राउंड फ्लोर पहुंचा। गंभीर हालत में पार्थिव को उठाकर आर्किड अस्पताल ले गया। जहां डॉक्टरों की टीम ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया।

मृतक पार्थिव की मां दुर्गा गुप्ता कोतवाली थाना में एसआई के पद पर पदस्थापित है। जबकि, पिता राजकुमार साह नेवी से सेवानिवृत हैं। पार्थिव ब्रिजफोर्ड स्कूल में कक्षा छठी से पढ़ाई कर रहा था। पूरे परिवार में पार्थिव इकलौता बेटा था। बच्चे के गिरने के बाद मां दुर्गा, पिता राजकुमार साह आर्किड अस्पताल पहुंचे। बच्चे की मां दुर्गा का रो-रो कर हाल बुरा है। रिश्तेदार उसे संभालने में लगे हुए हैं। फिलहाल बच्चे की मां दुर्गा प्रेंगनेंट होने के कारण छुट्टी पर चल रहीं हैं। सूचना मिलने के बाद लालपुर इंस्पेक्टर अरविंद कुमार सिंह समेत पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचे। पुलिस ने बच्चे के अन्य रिश्तेदारों से पूरे मामले में पूछताछ की है। हालांकि, इस मामले में किसी ने कोई लिखित बयान पुलिस को नहीं दिया है।

पलक झपकते पार्थिव गिरा रेलिंग से
मृतक पार्थिव की फुआ ने कहा कि परिवार के पूरे बच्चों को लेकर पति राजेश प्रसाद के साथ न्यूक्लियस मॉल पहुंची थी। मॉल में मस्ती व खरीदारी करने के बाद बच्चों को लेकर घर लौटने की तैयारी थी। अचानक रेखा को बाथरूम लगा, तो राजेश उसे गोद में लेकर बाथरूम के लिए ले गये। पार्थिव समेत अन्य लोग द्वितीय तल्ले पर रेलिंग किनारे खड़े थे। सभी एक-दूसरे के करीब थे। पार्थिव रेलिंग पकड़ कर नीचे की ओर देख रहा था। उसे मना भी किया गया कि बेटे नीचे की ओर मत देखो। इतना बोलने के कुछ सेकेंड बाद पार्थिव रेलिंग से नीचे की ओर गिर गया। आंख खुलने पर पार्थिव द्वितीय से ग्राउंड में गिर गया। फिर आसपास पूरी भीड़ इकट्ठी हो गया। जब तक राजेश द्वितीय से ग्राउंड तक पहुंचे, काफी खून बह चुका था।

पूरे परिवार में इकलौता था पार्थिव
कोतवाली थाना में पदस्थापित मां दुर्गा गुप्ता तथा पिता राजकुमार साह का बेटा पार्थिव पूरे परिवार में इकलौता था। सभी को बेटी होने के कारण पार्थिव कई लोगों का दुलारा भी था। थोड़ा चंचल, मस्ती करने वाला पार्थिव पूरे परिवार की जान था। सुबह से शाम तक सभी को हंसा कर घर में रखता था। पार्थिव की मौत की सूचना मिलने के बाद से परिवार के बाकि सदस्य आर्किड अस्पताल पहुंचने लगे। महिला से लेकर पुरुषों का हाल रो-रो कर बुरा था। रविवार को पोस्टमार्टम के बाद बॉडी परिजनों को सौंपी जायेगी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.