कोडरमा: अपहृत नाबालिग लड़की बरामद, आरोपी युवक फरार

कोडरमा: नवलशाही थाना क्षेत्र के पूरनानगर पंचायत के मंझलानगर से लगभग बीस दिन पूर्व अपहृत नाबालिग लड़की को नवलशाही पुलिस ने गुरुवार को कोलकाता से बरामद कर लिया है। वहीं अपहरण में शामिल युवक पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाया है। अपनी आपबीती पुलिस को सुनाते हुए नाबालिग ने बताया कि चार मार्च को तिलैया कामर्स कॉलेज से इंटर की परीक्षा देकर वो ऑटो से नवलशाही पहुंची।

वहां से पैदल अपने घर मंझलानगर जा रही थी। तभी पंचवाहिनी के समीप गांव का संदीप कुमार चार- पांच अन्य लड़कों के साथ वहां पहले से खड़ा था। उसके वहां पहुंचने पर उसने मुझे रोकने की कोशिश की। उसने विरोध करने पर जबरन बाइक पर बिठा लिया। संदीप ने उसकी नाक और मुंह पर रुमाल रख दिया, जिससे वह बेहोश हो गई। जब होश आया तो उसने अपने आसपास बंगला बोलते हुए लोगो को पाया। संदीप ने उसे वहां एक कमरे मे रखा था और जबरन उसके साथ दुष्कर्म करता था। फिर वह उसे लेकर कोलकाता स्टेशन गया। जहां वह टिकट के लिये टिकट काउंटर पर गया।

इसी बीच मौका देख उसने अपनी व्यथा वहां खड़े एक व्यक्ति को बतायी और पुलिस की मदद की बात कही। उस व्यक्ति की मदद से वह हावड़ा स्टेशन के रेलवे पुलिस के पास पहुंची। रेलवे पुलिस ने उसके पिता से संपर्क किया। वहीं थाना प्रभारी शिवबालक यादव ने बताया कि नाबालिग के पिता द्वारा सूचना मिलने पर एएसआई नारायण तुबिद की अगुआई में टीम गठित कर कोलकाता भेजा गया और लड़की को थाने लाया गया। तथा मेडिकल के लिए कोडरमा भेजा गया। गौरतलब है कि पीड़िता के पिता ने कुछ दिन पूर्व थाने में एक आवेदन देकर अपहरण का आरोप गांव के ही युवक संदीप कुमार, पिता जागेश्वर दास पर लगाते हुए थाने में मामला दर्ज कराया था।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.