झारखंड सरकार की वेबसाइट से कर्मचारियों की आधार जानकारी लीक : रिपोर्ट

नई दिल्ली: वेब सिस्टम की सुरक्षा में झारखंड सरकार की चूक के कारण भारत के करीब 1,66,000 सरकारी कर्मचारियों आधार जानकारी लीक हो गई है। टेक क्रंच ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। रिपोर्ट के अनुसार, कर्मचारियों का रिकॉर्ड रखने वाला एक वेब सिस्टम 2014 के बाद से बिना पासवर्ड के था और इसके कारण झारखंड सरकार के कर्मचारियों का आधार नंबर, नाम, नौकरी की जानकारी और फोन नंबर लीक हो गए।
झारखंड सरकार की वेबसाइट के सब-डोमेन में एक गूगल इंडेक्स वेबसाइट मौजूद थी जिसमें कर्मचारियों की उपस्थिति का रिकॉर्ड और उनकी तस्वीरें मौजूद थी। फिलहाल, इंडेक्स्ड वेबसाइट को ऑफलाइन कर दिया गया है।

अमेरिका स्थित साइबर सिक्योरिटी कंपनी फायरआई के मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी (एपीएसी) और उपाध्यक्ष स्टीव लेडजिएन ने आईएएनएस से कहा, ”डिजिटल परिवर्तन भारत को महत्वपूर्ण आर्थिक लाभ देने का वादा करता है, लेकिन ऐसा तभी होगा जब साइबर सुरक्षा बेहतर रहे। चूंकि संगठनों द्वारा अधिक व्यक्तिगत डेटा बनाया और संग्रहीत किया जा रहा है, सुरक्षा उपायों को भी सराहनीय रूप से लगातार मजबूत किया जाना चाहिए।” पिछले साल, झारखंड में लगभग आधा दर्जन लोगों की भुखमरी से जान चली गई क्योंकि आधार कार्ड न होने के कारण सार्वजनिक वितरण प्रणाली (पीडीएस) की दुकानों से उन्हें राशन नहीं दिया गया।

लेडजिएन ने कहा, ”भारतीय अधिकारियों के लिए यह महत्वपूर्ण है कि वे अपनी सुरक्षा और जोखिम को समझें ताकि जब घटनाएं हों तो वे जल्दी से समस्या की पहचान कर सकें और उससे निपटने के लिए उचित कदम उठा सकें।” अभी तक इस मामले पर राज्य सरकार या यूआईडीएआई की ओर से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.