झारखंड : फर्जी मुठभेड़ मामले में सीबीआई कर रही पूछताछ

रांची: सीबीआई ने साल 2015 के कथित फर्जी मुठभेड़ के एक मामले में झारखंड पुलिस के दो अधिकारियों से पूछताछ की है। सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की एक टीम बुधवार को लातेहार जिले के सतबरबा पुलिस स्टेशन के प्रभारी मोहम्मद रुस्तम व मनिका पुलिस थाने के प्रभारी गुलाम रब्बानी से पूछताछ करने के लिए पलामू पहुंची। पुलिस के मुताबिक, लातेहार जिले के बकोरिया गांव में हुई मुठभेड़ में 12 नक्सली मारे गए थे। सूत्रों ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज करने वाले रुस्तम को वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों द्वारा प्राथमिकी पर हस्ताक्षर करने के लिए मजबूर किया गया था।

रब्बानी ने सीबीआई को बताया कि मुठभेड़ स्थल से करीब होने के बावजूद उन्हें इसकी जानकारी नहीं थी।इससे पहले इस मामले की जांच राज्य सीआईडी द्वारा की गई थी, जिसने पुलिस को क्लीनचिट दे दी थी। इसके बाद मारे गए लोगों में से एक के पिता ने उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की थी, जिसमें सीबीआई जांच की मांग की गई थी। झारखंड उच्च न्यायालय के आदेश पर बकोरिया मुठभेड़ मामले की जांच सीबीआई को सौंपी गई। इस मुठभेड़ पर सवाल तब उठे, जब सदर पुलिस थाने के प्रभारी हरीश पाठक ने मुठभेड़ की प्राथमिकी दर्ज करने से इनकार कर दिया।

इसके बाद सीआईडी में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक एम.वी. राव के स्थानांतरण के बाद संदेह और मजबूत हुआ। कथित तौर पर उन्हें बिना अनुमति के झारखंड नहीं आने के लिए कहा गया था।सीबीआई की ओर से पलामू के पुलिस अधीक्षक कन्हैया मयूर पटेल, पुलिस उप-महानिरीक्षक व अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक रैंक के अधिकारियों से भी पूछताछ किए जाने की संभावना है।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.