केंद्र से पटना मेट्रो रेल परियोजना की अबतक नही मिली मंजूरी: महेश्वर हजारी

पटना: बिहार के नगर विकास एवं आवास मंत्री महेश्वर हजारी ने आज आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार ने पटना मेट्रो रेल परियोजना को अब तक मंजूरी नहीं दी जबकि इससे संबंधित प्रस्ताव लगभग एक वर्ष पूर्व ही भेजा जा चुका है।

हजारी ने विधानसभा में नगर विकास एवं आवास विभाग के वित्तीय वर्ष 2017-18 की बजट मांग पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि राज्य सरकार ने लगभग एक वर्ष पूर्व पटना मेट्रो रेल परियोजना को मंजूरी के लिए केन्द्र सरकार को भेजा था लेकिन अब तक इस पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। उन्होंने कहा कि वह केन्द्रीय नगर विकास मंत्री वेंकैया नायडू से इस मामले को लेकर मिल चुके हैं और व्यक्तिगत रूप से प्रस्ताव को मंजूरी दिये जाने का अनुरोध किया है।

नगर विकास मंत्री ने कहा कि नायडू ने आश्वासन दिया है कि सरकार इस प्रस्ताव पर गंभीरता से विचार कर रही है और इस मामले में बिहार के साथ कोई भेदभाव नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि उन्हें अफसोस है कि केन्द्र ने लखनऊ मेट्रो रेल परियोजना को मंजूरी प्रदान कर दी है लेकिन पटना मेट्रो रेल परियोजना अभी भी अधर में लटका हुआ है।

हजारी ने कहा कि पटना में अंतरराज्यीय बस पड़ाव बनाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इसके लिए 331 करोड़ रूपये खर्च करेगी। बस पड़ाव बनने से लोगों को काफी सहुलियत होगी। इसके साथ ही राज्य के अन्य शहरों में भी आधुनिक बस पड़ाव बनाने का निर्णय लिया गया है। नौ शहरों में अब तक बस पड़ाव बनाये जा चुके हैं।

नगर विकास मंत्री ने कहा कि सरकार ने नयी आवास नीति बनाने का फैसला लिया है। इसके तहत समाज के कमजोर वर्गो को आवास की सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी। उन्होंने कहा कि झुग्गी-झोपड़ी वाले इलाकों में भी सरकार ने आवास की सुविधा उपलब्ध कराने की योजना बनायी है।

मंत्री के जवाब से असंतुष्ट होकर विपक्षी सदस्यों ने सदन से बहिर्गमन किया। बाद में सदन ने नगर विकास एवं आवास विभाग के वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए 43,35,01,21,000 रूपये की बजट मांग को ध्वनिमत से पारित कर दिया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.