बांग्लादेश का आर्थिक मॉड्यूल अपनाएं बिहार-झारखंड: राष्ट्रपति

पटना: राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने शुक्रवार को कहा कि बिहार बुद्ध और महावीर की भूमि है। बिहार-बंगाल और झारखंड जैसे राज्यों को बांग्लादेश का आर्थिक मॉड्यूल अपनाना चाहिए जो आज एशिया में सबसे तेजी से विकसित हो रही अर्थव्यवस्था में से एक बनकर उभर रहा है।

उन्होंने कहा बिहार और झारखंड एक ऐसे चौराहे पर खड़ा है, जहां से उन्हें जनता की अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए सही राह पकड़नी है। समाज को सही दिशा में गतिमान बनाने के लिए राजनीतिक पहल की भी जरूरत है। शुक्रवार को एशियन डेवलपमेंट रिसर्च इंस्टीच्यूट (आद्री) की ओर से होटल मौर्या में आयोजित अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने कहा कि बिहार का अपना ऐतिहासिक महत्व रहा है। वे कई मौकों पर बिहार आए हैं।

पिछले सप्ताह भी उन्हें यहां आने का मौका मिला था। बिहार आकर उन्हें प्रेरणा मिलती है। मुखर्जी ने कहा कि प्रचुर क्षमता होने के बावजूद राजनीतिक और सामाजिक कारणों से दोनों राज्य पिछड़ रहे हैं। दोनों राज्यों की क्षमता एवं विकास की प्राथमिकताओं के बीच व्यापक अंतर रहा है। इस वजह से दोनों राज्य ऐसे चौराहे पर खड़े हैं जहां से उन्हें ऐसी राह पकड़नी है जिस पर चलकर वे जनता की आकांक्षाओं को पूरा कर सकते हैं। इतिहास गवाह है कि इन लक्ष्यों की प्राप्ति समाज को गतिमान बनाकर और राजनीतिक पहल से की जा सकती है। उन्होंने इस मौके पर लालू यादव के दोनों पुत्रों, तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव की चर्चा करते हुए कहा कि दोनों भाई अब बड़े हो गए, मंत्री बन गए हैं, बचपन में ही मैनें दोनों को देखा था।

उन्होंने दोनों के कामों की सराहना भी की। इससे पूर्व राष्ट्रपति वायुसेना के विशेष विमान से दोपहर पटना पहुंचे जहां गणमान्य लोगों ने उनकी अगुवाई की। हवाई अड्डे पर राज्यपाल रामनाथ कोविंद और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनकी अगुवानी की और स्वागत किया। वहां के बाद राष्ट्रपति पटना एयरपोर्ट से सीधे होटल मौर्य में आद्री के कार्यक्रम में पहुंचे। आयोजित कार्यक्रम में राज्यपाल रामनाथ कोविंद, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव, शिक्षामंत्री अशोक चौधरी सहित कई गणमान्य लोग मौजूद हैं। आद्री के सदस्य डॉक्टर शैवाल गुप्ता ने स्वागत भाषण पढ़ा। इसके बाद बारी-बारी से सभी सदस्यों ने राष्ट्रपति का स्वागत किया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.