रायपुर में रेलवे स्टेशन की पार्किंग में भीषण आग, 220 दोपहिया खाक

छतीसगढ़ में रेलवे पार्किंग में लगी भीषण आग, धू-धू कर जली 220 दोपहिया वाहन

रायपुर: छत्तीसगढ़ के रायपुर रेलवे स्टेशन की पार्किंग में सुबह करीब 11 बजे लगी भयावह आग में दो सौ से अधिक दोपहिया वाहन जलकर खाक हो गए। दमकल की छह गाड़ियों की मदद से आग पर काबू पाया गया।

रेल एसपी पारुल माथुर ने कहा, ”इस भयावह आग से 220 दोपहिया वाहन जल गए हैं। हादसे की जानकारी मिलते ही रायपुर रेल मंडल के डीआरएम राहुल गौतम, रायपुर शहर एएसपी विजय अग्रवाल, सहित आला अफसर मौके पर पहुंचे।” माथुर खुद घटनास्थल पर मौजूद थीं।

माथुर ने कहा कि घटना की सही वजह अभी साफ नहीं हो सकी है, लेकिन मौके पर मौजूद लोगों ने आशंका जताई है कि पार्किंग के पास रेलवे का कचरा जलाया गया था, जिससे आग लगी होगी। कचरे से भड़की आग ने एक मोटरसाइकिल को लपेटे में लिया और देखते-देखते मोटरसाइकिलें धू-धू कर जलने लगीं।

उन्होंने कहा, ”प्रथम दृष्टया कचरे में लगी आग से आगजनी की आशंका है। पार्किंग ठेकेदार की गलती होगी तो कार्रवाई की जाएगी।” डीआरएम राहुल गौतम ने भी कहा, ”पार्किंग के कोने में कचरा जल रहा था, जिससे आग लगने की आशंका है। आगजनी के सही कारणों का अभी पता नहीं चल सका है। जांच कराई जाएगी और आवश्यकता होने पर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।”

रायपुर उत्तर के विधायक श्रीचंद सुंदरानी ने कहा, ”मामले में ठेकेदार की लापरवाही हो सकती है। दैनिक यात्रियों की गाड़ियों को क्षति पहुंची है। क्षतिपूर्ति के लिए मामले में पहल करूंगा।” जीआरपी के अनुसार, दमकल विभाग को घटना की सूचना दी गई, लेकिन दमकल की गाड़ियां मौके पर लगभग 45 मिनट विलंब से पहुंची, जिससे आग ने विकराल रूप ले लिया था। दमकल की छह से अधिक गाड़ियों की मदद से आग पर काबू पाया गया।

उल्लेखनीय है कि रेलवे पार्किंग में जहां आग लगी थी, उससे लगे कई मकान, दुकान और होटल हैं। यदि आग वहां तक पहुंच जाती तो यह हादसा और भी विकराल हो जाता। हादसे में किसी भी प्रकार की जनहानि नहीं हुई है। दोपहिया स्टैंड में सैकड़ों वाहन होने के बावजूद वहां किसी प्रकार की सुरक्षा प्रणाली नहीं थी, जिसका उपयोग आग पर काबू पाने के लिए किया जाता।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.