इतिहास रचना है तो आस्ट्रेलिया को करना होगा चित

डर्बी: भारतीय महिला क्रिकेट टीम आईसीसी विश्वकप में इतिहास रचने से अब बस चंद कदम की दूरी पर है लेकिन उससे पहले मिताली एंड कंपनी को दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में गुरूवार को छह बार की चैंपियन आस्ट्रेलिया की चुनौती से पार पाना होगा।

भारतीय महिला टीम ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 186 रन की अपनी जबरदस्त जीत की बदौलत विश्वकप के  सेमीफाइनल में जगह पक्की की थी। लेकिन दूसरे सेमीफाइनल में उसके लिये राह काफी मुश्किल होने वाली है जहां वह टूर्नामेंट की सबसे सफल टीम आस्ट्रेलिया का सामना करेगी जिसके खिलाफ उसका पिछला रिकार्ड खास नहीं रहा है।

लेकिन यदि टीम इंडिया को पहली बार विश्वकप चैंपियन बनकर इतिहास रचना है तो उसे फाइनल का टिकट पाने के लिये इस चैंपियन टीम को उलटफेर का शिकार बनाना होगा। इंग्लैंड की टीम दक्षिण अफ्रीका को पहले सेमीफाइनल में हराकर फाइनल में जगह बना चुकी है जिसे भारत इस टूर्नामेंट में अपने पहले ही मैच में 35 रन से शिकस्त दे चुका है।

भारतीय टीम इस समय जबरदस्त लय में है और उसने टूर्नामेंट में कमाल का प्रदर्शन किया है। कप्तान और स्टार बल्लेबाज मिताली वनडे में सर्वाधिक रन बनाने वाली खिलाड़ी हैं तो झूलन गोस्वामी अनुभवी और सफल गेंदबाज हैं। टीम के पास बेहतरीन बल्लेबाजी और गेंदबाजी क्रम है जिसने अब तक खुद को साबित किया है। लेकिन आस्ट्रेलिया के खिलाफ उसकी चुनौती सबसे बड़ी होगी जिससे पिछले 42 मैचों में उसने 34 मैच गंवाये हैं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.