रायडू ने संन्यास लिया, विश्व कप टीम में चयन नहीं होने से थे नाखुश

नई दिल्ली: भारत के मध्यक्रम के बल्लेबाज अंबाती रायडू ने बुधवार को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आईएएनएस से कहा कि रायडू ने बीसीसीआई को इसके लिए पत्र लिखा है। हालांकि, इस मुद्दे पर बयान लेने के लिए बल्लेबाज से संपर्क नहीं हो पाया। रायडू को विश्व कप के लिए 15 सदस्यीय टीम में शामिल नहीं किया गया था। रिजर्व में नाम होने के बावजूद, शिखर धवन और विजय शंकर के चोटिल होने पर उन्हें टीम में नहीं शामिल किया गया और ऋषभ पंत एवं मयंक अग्रवाल को उनकी जगह मौका दिया गया।

भारत के लिए विश्व कप टीम में जगह नहीं पाने के बाद आइसलैंड क्रिकेट ने मंगलवार को एक विचित्र ट्वीट करते हुए 33 वर्षीय बल्लेबाज को अपने देश में स्थायी निवास देने की पेशकश की ताकि वह उनके लिए खेल सकें। शुरुआत में विश्व कप के लिए चुनी गई टीम में शामिल न होने के बाद रायडू ने अपनी नाराजगी व्यक्त की थी और चयनकर्ताओं के शंकर को टीम में लेने के फैसले पर बिना नाम लिए सवाल उठाया था। उन्होंने एक ट्वीट में मुख्य चयनकर्ता एम.एस.के. प्रसाद कि इस बात की खिल्ली उड़ाई थी कि ‘विजय शंकर टीम को तीन आयाम (थ्री-डाइमेंशन) प्रदान करेंगे।’

रायडू ने ट्वीट किया था, ”विश्व कप देखने के लिए 3-डी चश्मों का एक नया सेट ऑर्डर कर दिया है।” रायडू ने भारत के लिए 47.05 की औसत के साथ 55 वनडे में कुल 1,694 रन बनाए। उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 124 रन रहा। उन्होंने तीन शतक और 10 अर्धशतक भी लगाए। उन्होंने छह टी-20 भी खेले। इसमें उन्होंने 10.50 की औसत से केवल 42 रन बनाए। इसके अलावा, 97 फर्स्ट क्लास मैच में उनके नाम 6,151 रन हैं।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.