मुंबई में घरेलू मैदान पर अब अच्छा खेलने का दबाव रहेगा: रोहित

इंदौर: भारतीय क्रिकेट टीम के कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने कहा है कि वह मैदान पर किसी रिकार्ड के लिये नहीं बल्कि रन बनाने के लक्ष्य के साथ उतरे थे और अब उनसे अपेक्षा इतनी बढ़ गयी है तो मुंबई के घरेलू मैदान पर आखिरी मैच में भी उनपर काफी दबाव होगा।

रोहित ने श्रीलंका के खिलाफ दूसरे ट्वंटी 20 मैच में केवल 43 गेंदों पर 118 रन की शतकीय पारी खेली थी।विराट कोहली की अनुपस्थिति में कप्तानी संभाल रहे रोहित इस समय कमाल की फार्म में है और वनडे सीरीज़ में भारत को 2-1 से न सिर्फ जीत दिलाई थी बल्कि तीसरा दोहरा शतक बनाने वाले भी दुनिया के एकमात्र बल्लेबाज़ बन गये।

सलामी बल्लेबाज़ ने शुक्रवार को दूसरे ट्वंटी 20 मैच में भी अपनी पारी से भारत को 2-0 की अपराजेय बढ़त दिला दी है। मैन ऑफ द मैच बने रोहित ने मैच के बाद कहा कि वह अपने प्रदर्शन से काफी खुश हैं लेकिन उनसे फिर से दोहरे शतक की उम्मीद करना कुछ ज्यादा ही हो गया है।

उन्होंने हंसते हुये कहा” मुझे लगता है कि यह कुछ ज्यादा ही मांग रहे हैं। मैं तो केवल मैदान पर रन बनाने के लिये उतरा था। मैं लेकिन किसी लक्ष्य के बारे में नहीं सोच रहा था। मैं किसी रिकार्ड के लिये नहीं खेल रहा था। मैं सभी प्रारूपों में किसी रिकार्ड के बारे में नहीं सोच रहा हूं।” रोहित ने कहा” मेरा काम जितना हो सके रन बनाना है। मैं 100, 200 या 300 रन बनाने के लिये नहीं उतरता। मेरी कोशिश यही रहती है कि टीम को एक अच्छी स्थिति में पहुंचा सकूं।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.