भारत ने दक्षिण अफ्रीका को नौ विकेट से रौंदा

सेंचुरियन: मैन आफ द मैच लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (22 रन पर पांच विकेट) के करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव (20 रन पर तीन विकेेट) के शानदार प्रदर्शन के बाद शिखर धवन (नाबाद 51) और कप्तान विराट कोहली (नाबाद 46) के बीच दूसरे विकेट के लिए हुई 93 रन की अविजित साझेदारी की बदौलत भारत ने दूसरे एकदिवसीय मैच में रविवार को दक्षिण अफ्रीका को 177 गेंद शेष रहते नौ विकेट से हराकर छह मैचों की वनडे सीरीज में 2-0 की बढ़त हासिल कर ली। भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका को 32.2 ओवर में 118 रन पर ढेर कर दिया और फिर शिखर तथा विराट की शानदार पारियों से 20.3 ओवर में एक विकेट पर 119 रन बनाकर 177 गेंद शेष रहते नौ विकेट से मैच अपने नाम कर लिया। शिखर ने 56 गेंदों पर नौ चौकों की मदद से नाबाद 51 और विराट ने 50 गेंदों पर चार चौकों और एक छक्के की बदौलत नाबाद 46 बनाए। शिखर का वनडे में यह 23वां अर्धशतक है। इसके अलावा रोहित शर्मा ने 17 गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के के सहारे 15 रन बनाए। दक्षिण अफ्रीका के लिए कैगिसो रबादा ने पांच ओवर में 24 रन देकर एकमात्र विकेट हासिल किया।

इससे पहले लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल (22 रन पर पांच विकेट) के करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव (20 रन पर तीन विकेेट) के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 32.2 में 118 रन पर ढेर कर दिया और 20.3 ओवर में एक विकेट पर 119 रन बनाकर 177 गेंद शेष रहते नौ विकेट से मैच जीत लिया। दक्षिण अफ्रीका का वनडे इतिहास में अपने घर में अब तक का यह सबसे न्यूनतम स्कोर है। दक्षिण अफ्रीका की टीम इससे पहले 2009 में पार्ट एलिजाबेथ में इंग्लैंड के खिलाफ 119 रन पर आलआउट हो गई थी। भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया और उसके गेंदबाजों ने इस फैसले को सही साबित करते हुए मेजबान दक्षिण अफ्रीका की पूरी टीम को 32.2 में 118 रन पर समेट दिया। दक्षिण अफ्रीका के ओपनरों हाशिम अमला (23) और विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक (20) ने पहले विकेट के लिए 39 रन की साझेदारी की। इसके बाद नियमित अंतराल पर मेजबान टीम के विकेट गिरते रहे। दक्षिण अफ्रीका ने 51 के स्कोर पर अपने तीन प्रमुख बल्लेबाजों डी कॉक, कप्तान एडेन मार्करम (8) और डेविड मिलर (0) का विकेट गंवाया। 99 रन तक आते आते उसने अपने पांच विकेट गंवा दिए। इसके बाद कोई भी बल्लेबाज टिक कर नहीं खेल सके।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.