आईपीएल-12 : पंजाब को हरा फिर शीर्ष पर पहुंची चेन्नई

चेन्नई: मौजूदा विजेता चेन्नई सुपर किंग्स ने शनिवार को अपनी कसी हुई गेंदबाजी के दम पर एम.ए. चिदम्बरम स्टेडियम में खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण के मैच में किंग्स इलेवन पंजाब को 22 रनों से हरा एक बार फिर अंकतालिका में पहला स्थान हासिल कर लिया है। चेन्नई ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में तीन विकेट के नुकसान पर 160 रन बनाए थे। उम्मीद थी कि पंजाब की टीम आसानी से यह लक्ष्य हासिल कर लेगी लेकिन चेन्नई के गेंदबाजों ने अपने घर में किफायती गेंदबाजी करते हुए पंजाब को 20 ओवरों में पांच विकेट खोकर 138 रनों तक ही सीमित कर दिया।

हरभजन सिंह ने पंजाब को शुरुआती ओवर में ही दो झटके दे उसे परेशानी में डाल दिया। हरभजन ने दूसरे ओवर की चौथी गेंद पर क्रिस गेल (5) को पवेलियन भेजा तो वहीं आखिरी गेंद पर मयंक अग्रवाल बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में डु प्लेसिस के हाथों लपके गए। चेन्नई मैच पर पकड़ बनाती दिख रही थी। सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल (55) ने एक छोर से संभाले रखा था और दूसरे छोर से युवा सरफराज अहमद (67) उनका अच्छा साथ दे रहे थे।

इन दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 110 रनों की साझेदारी की। हालांकि यह दोनों तेजी से रन नहीं बना पा रहे थे। चेन्नई के गेंदबाजों ने दोनों पर अंकुश लगा रखा था जिसका नतीजा यह हुआ कि आखिरी के ओवरों में रनगति बढ़ गई। इसी कारण राहुल 18वें ओवर की तीसरी गेंद पर स्कॉट कुजेलिन का शिकार हो गए। राहुल ने अपनी अर्धशतकीय पारी में 47 गेंदों का सामना किया और तीन चौकों के अलावा एक छक्का लगाया। अगले ओवर में डेविड मिलर (6) भी पवेलियन लौट लिए। यहां से पंजाब की जीत की उम्मीदें खत्म हो गई थीं।

सरफराज का विकेट आखिरी ओवर की चौथी गेंद पर गिरा। उन्होंने 59 गेंदों का सामना कर चार चौके और दो छक्के लगाए। चेन्नई के लिए हरभजन, स्कॉट कुगलेजिन ने दो-दो विकेट लिए। दीपक चहर को एक विकेट मिला। इससे पहले, चेन्नई को धीमी लेकिन सधी हुई शुरुआत मिली थी और उम्मीद थी कि अंत में वह एक मजबूत स्कोर तक पहुंचाएगी, लेकिन रविचंद्रन अश्विन ने तीन विकेट लेकर उसकी लय खराब कर दी और चेन्नई बड़ा स्कोर नहीं कर पाई।

अश्विन के अलावा चेन्नई को कोई और गेंदबाज विकेट नहीं ले सका। उन्होंने फाफु डु प्लेसिस (54) और शेन वाटसन (26) के बीच पहले विकेट के लिए हुई 56 रनों की साझेदारी को तोड़ा। वाटसन, अश्विन का पहला शिकार बने। इस सीजन का अपना पहला आईपीएल मैच खेल रहे डु प्लेसिस दूसरे छोर से रन बना रहे थे। अर्धशतक पूरा करने के बाद वह अश्विन का दूसरा शिकार बने। डु प्लेसिस का विकेट 100 के कुल योग पर गिरा। उन्होंने 38 गेंदों पर दो चौके और चार छक्कों की मदद से अर्धशतकीय पारी खेली। डु प्लेसिस के जाने के बाद अश्विन ने अगली ही गेंद पर सुरेशा रैना (17) को भी पवेलियन भेज दिया।

चेन्नई का बड़ा स्कोर तक पहुंचना मुश्किल लग रहा था लेकिन धोनी और अंबाती रायडू ने चौथे विकेट के लिए 60 रनों की साझेदारी कर टीम को सम्मानजनक स्कोर दिया। धोनी ने 23 गेंदों पर चार चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 37 रनों की पारी खेली। वहीं रायडू ने 15 गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 21 रन बनाए।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.