अबू असीम आजमी और वारिस पठान बोले गोली मार दो, नहीं गाएंगे ‘वंदे मातरम’

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के महाराष्ट्र से विधायक राज पुरोहित ने कहा है कि वह ‘वंदे मातरम’ गीत को अनिवार्य करने के लिए राज्य सरकार से नया कानून लाने के लिए कहेंगे।

पुरोहित ने कहा, मैं मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अनुरोध करूंगा कि मद्रास उच्च न्यायालय द्वारा हाल ही में वंदे मातरम गाना अनिवार्य करने वाले फैसले को महाराष्ट्र में भी अपनाया जाए। इसका विरोध करते हुए समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अबू असीम आजमी और आल इंडिया मजलिसे मुसलमीन के विधायक वारिस पठान ने कहा कि आप मुझे गोली मार सकते हैं, लेकिन हम इस गीत को नहीं गाएंगे।

पुरोहित के इस बयान पर समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रदेश अध्यक्ष एवं विधायक अबू असीम आजमी ने कहा कि वह वंदे मातरम का सम्मान करते हैं। लेकिन वह इसे किसी भी स्थिति में नहीं गाएंगे। उन्होंने कहा चाहे कुछ भी हो जाए, मैं इसे गाने के लिए राजी नहीं हो सकता। आजमी ने कहा, जब भारत का विभाजन हुआ, तब यह बात नहीं कही गई कि भारत में रुकने वाले मुसलमानों को इसे गाने के लिए मजबूर किया जाएगा।

उन्होंने कहा आप मुझे गोली मार सकते हैं। चाहें तो देश से बाहर फेंक सकते हैं, लेकिन हम इसे गाएंगे नहीं। आजमी के सुर में सुर मिलाते हुए ऑल इंडिया मजलिस-ए-मुसलिमीन (एआईएमआईएम) के विधायक वारिस पठान ने भी कहा कि उनके सिर पर बंदूक रख दी जाए या गले पर चाकू रख दिया जाए, तो भी वह वंदे मातरम नहीं गाएंगे। पठान ने कहा कि उनकी पार्टी ने हमेशा इसका विरोध किया है।

उन्होंने कहा कि यह गीत गाकर कोई उनकी ‘देशभक्ति’ साबित करने के लिए मजबूर नहीं कर सकता। इसके बाद शिव सेना के नेता और परिवहन मंत्री दिवाकर रावते ने आजमी और पठान को ‘देशद्रोही’ कहा। रावते ने कहा, वे देशद्रोही हैं। उन्हें पता होना चाहिए कि वंदे मातरम, देशप्रेम से ओतप्रोत रचना है। अगर उन्हें राष्ट्रीय गीत गाने से इतना परहेज है, तो उन्हें पाकिस्तान चले जाना चाहिए।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.