4 पीढ़ी और चाय वाले के 4 साल पर कांग्रेस को बड़ी दिक्कत : मोदी

विदिशा (मध्यप्रदेश): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां रविवार को कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि उन्हें अपनी चार पीढ़ी के विकास और चाय वाले के चार साल के विकास पर चर्चा करने में बड़ी दिक्कत होती है। पिछले दिनों कांग्रेस की ओर से की गई बयानबाजी यह बताती है कि ‘उनका जनता और खुद पर से विश्वास उठ गया है।’ प्रधानमंत्री ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा, ”कांग्रेस को लगता है कि भाजपा और शिवराज के विकास का कोई मुकाबला नहीं है, दूसरी ओर, जब मोदी चुनौती देता है चार पीढ़ी और चाय वाले के चार साल के शासनकाल के विकास पर मुकाबले की तो बड़ी दिक्कत हो जाती है। जब मुद्दे नहीं बचे हैं, तर्क नहीं बचे हैं, जनता का विश्वास खो चुके हैं, तो एक ही रास्ता बचा गाली-गलौज।

यह जो कुछ भी चल रहा है, उसे नामदार समर्थन दे रहे हैं।” उन्होंने आगे कहा, ”दो दिन पहले एक नेता हमारी माताजी को चुनाव में घसीट में लाते हैं, जो छोटे से कमरे में बैठकर पूजा पाठ करती है, क्या उसे राजनीति में घसीटना उचित है? मुझे लगा कि कांगे्रस इससे सीख लेगी, मगर मां को गाली से बात नहीं बनी तो पिता को घसीट लाए, जो 30 साल पहले दुनिया से जा चुके हैं। यह सब नामदार के समर्थन से हो रहा है।” मोदी ने अपने परिवार पर हो रहे हमलों के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को जिम्मेदार ठहराया और पलटवार करते हुए कहा, ”नामदार कहते हैं कि मोदी मेरे परिवार के बारे में बोल रहे हैं। मोदी ने साफ कर दिया कि हम उनके (राहुल गांधी) परिवार के बारे में नहीं बोलते हैं, हम देश के पूर्व प्रधानमंत्री और सरकारों के खिलाफ बोल रहे हैं, अगर मेरे परिवार का कोई व्यक्ति सत्ता के गलियारों या राजनीति में है तो आपको बाल नोंचने का अधिकार है।

आप जितना सवाल मोदी से पूछ सकते हैं, उतने सवाल मोदी भी आपसे कर सकता है, लोकतंत्र है देश में।” प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि कांग्रेस में नामदार की मर्जी के बगैर कोई कुछ नहीं बोल सकता, नेता जो भी बोल रहे हैं, उसमें नामदार की सहमति होती होगी। झूठ पर झूठ बोले जा रहे हैं, न तो उनके पास आरोप के तर्क हैं और न ही आरोपों का प्रमाण, बस आरोप लगा दिए। मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने कभी भी विकास के मुद्दे पर चुनाव नहीं लड़ा, यही कारण है कि कांग्रेस को अपने शासनकाल के विकास और भाजपा के विकास कार्यों पर बहस करना चाहिए, देश के लोगों को बताना चाहिए।

उन्होंने दिग्विजय सिंह के उस बयान पर तंज कसा, जिसमें उन्होंने कहा था कि ”मेरे प्रचार करने से वोट कट जाते है।” मोदी ने कहा कि उनके प्रचार करने से नहीं, बल्कि उनको देखते ही लोगों को 10 साल का उनका शासनकाल याद आ जाता है, और इसलिए लोग कांग्रेस को वोट नहीं देंगे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.