शत्रुघ्न के बयान की भाजपा, जद (यू) ने की आलोचना

पटना: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए और बिहार के पटना साहिब से महागठगंधन के प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा द्वारा मोहम्मद अली जिन्ना के सबंध में दिए गए बयान के बाद राज्य का सियासी पारा गर्म हो गया है। भाजपा और जनता दल – यूनाइटेड (जद-यू) ने जहां सिन्हा के इस बयान की आलोचना की है, वहीं कांग्रेस उनके बचाव में उतर आई है। जद-यू के प्रवक्ता राजीव रंजन प्रसाद ने सिन्हा के बयान की निंदा करते हुए कहा कि देश के लोग जिन्ना को कतई माफ नहीं कर सकते। उन्होंने कहा, ”जिन्ना भारतीय स्वाधीनता संग्राम के सबसे बड़े खलनायक हैं। अविभाजित भारत का विभाजन जिन्ना की महत्वाकांक्षाओं की पूर्ति के लिए हुआ।

लाखों भारतीयों का विस्थापन एवं सरहद के दोनों तरफ हुए रक्तपात के लिए जिन्ना को कतई माफी नहीं मिल सकती।” कांग्रेस के नेता और फिल्म अभिनेता सिन्हा ने मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले के सौंसर में शुक्रवार शाम एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि देश की आजादी और तरक्की में मोहम्मद अली जिन्ना और कांग्रेस का सबसे बड़ा योगदान है। शत्रुघ्न के इस बयान पर भाजपा के विधायक नितिन नवीन ने कहा कि बिहार का संस्कार कभी जिन्ना की तरफदारी नहीं कर सकता। सिन्हा ने जिन्ना की तरफदारी कर करोड़ों हिन्दुओं और देशभक्तों को चोट पहुंचाई है। उन्होंने कहा कि देश का हर व्यक्ति जिन्ना का विरोधी है और सिन्हा ने देश को बांटने वाले की तरफदारी कर शर्मनाक काम किया है।

नितिन नवीन ने कहा, ”कांग्रेस में जाते ही शत्रुघ्न सिन्हा का मिजाज एकदम से बदल गया है और इसीलिए अल्पसंख्यक वोट पाने के लिए वो कुछ भी बोल रहे हैं। ये बहुत ही शर्मनाक है।” इधर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने सिन्हा का बचाव करते हुए कहा कि सिन्हा के बयान को समझने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि जिन्ना जब तक भारत में रहे तब तक महात्मा गांधी के साथ मिलकर लड़ाई लड़ी।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.