ममता पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को गर्व से स्वीकार करती हैं, भारत के नहीं : मोदी

बांकुरा (पश्चिम बंगाल): पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के इस बयान पर कि वे नरेंद्र मोदी को भारत के प्रधानमंत्री के तौर पर स्वीकार नहीं करतीं, तंज कसते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि बनर्जी को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को स्वीकार करने में गर्व होता है। उन्होंने साथ ही ममता पर संविधान का अपमान करने का आरोप लगाया।मोदी ने यहां बांकुरा जिला के कमलादंगा में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ”वे जिस भाषा में बात कर रही हैं उससे कोई भी उनकी चिंता का स्तर आसानी से समझ सकता है। अब वे मुझे पत्थर और थप्पड़ मारने की बात करती हैं ..मुझे अपशब्द सुनने की आदत हो गई है और मुझमें दुनियाभर के शब्दकोषों में मौजूद अपशब्दों को पचाने की शक्ति आ गई है।” उन्होंने कहा, ”आपको यह जानकर अचंभा होगा कि वे सार्वजनिक रूप से बोल रही हैं कि वे देश के प्रधानमंत्री को स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं हैं, जबकि उन्हें पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को स्वीकार करने में गर्व महसूस होता है।”

बनर्जी ने बुधवार को पश्चिमी मिदनापुर में एक जनसभा संबोधित करते हुए कहा था कि उन्हें मोदी को लोकतंत्र का करारा तमाचा मारने का मन करता है।मोदी ने कहा, ”अब, सत्ता खोने के डर में वे इससे भी आगे बढ़कर राज्य को बरबाद करने तक आ गई हैं। उन्हें ‘मां माटी मानुष’ नहीं बल्कि अपने फायदे, सत्ता और अपने रिश्तेदारों, भतीजों और लुटेरों की चिंता है।” उन्होंने कहा कि उन्हें बताया गया है कि तृणमूल सरकार ने भारतीय जनता पार्टी को जनसभा आयोजित करने से रोकने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी।
उन्होंने कहा, ”लेकिन उस व्यक्ति को कोई नहीं रोक सकता जिसके पास लोगों का आशीर्वाद है।” मोदी ने अपने पहले के आरोप को दोहराया कि पिछले सप्ताह आए चक्रवात फानी से हुए नुकसान की समीक्षा के लिए उनके फोन करने पर तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने ना तो उनकी कॉल रिसीव की और ना ही उन्हें वापस फोन किया।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.