कांग्रेस मुझे ‘भारत माता की जय’ कहने से रोक रही : मोदी

सीकर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी उन्हें चुनावी रैलियों में ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाने से रोकने का प्रयास कर रही है।यहां एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के ‘नामदार’ ने उनके खिलाफ एक ‘फतवा’ जारी किया है, जिसमें उन्हें ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाने से रोकने के लिए कहा गया है।मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत से पहले कई बार यह नारा लगाया।मोदी ने कहा, ”भारत माता कहने से इस देश के युवाओं को रोकने वाले वे (कांग्रेस) कौन होते हैं? जवानों ने ‘भारत माता की जय’ कहते हुए सर्जिकल स्ट्राइक (नियंत्रणरेखा पार) की थी।

मुझे यह कहने से रोकने की नामदार की हिम्मत कैसे हुई?” इससे पहले राजस्थान के झुंझुनू में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि मोदी हर रैली में ‘भारत माता की जय’ का नारा लगाते हैं, लेकिन उनकी आवाज में खोखलापन सुनाई पड़ता है।उन्होंने कहा था कि मोदी किसानों, महिलाओं और युवाओं, जिनसे भारत माता बनी हैं, उनके मुद्दे पर बात नहीं करते, केवल नारे लगाते हैं।सीकर में मोदी ने कांग्रेस की प्रदेश इकाई में नेतृत्व को लेकर चल रही खींचतान पर टिप्पणी करते हुए कहा कि पार्टी राज्य में बदलाव की लहर मानकर राजस्थान को जीतने का सपना देख रही है।

मोदी ने कहा, ”जब एक अखबार वाले ने अशोक गहलोत से पूछा कि अगर कांग्रेस सत्ता में आती है तो मुख्यमंत्री कौन होगा? उन्होंने कहा कि कौन बनेगा करोड़पति। क्या आप मुख्यमंत्री बनने पर करोड़पति होने का सपना देख रहे हैं? यह आपकी असली मंशा दिखाता है।” उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगकर जवानों का अपमान कर रही है।उन्होंने कहा, ”कांग्रेस पार्टी ने इस देश के जवानों का अपमान किया है। सर्जिकल स्ट्राइक की सफलता के तुरंत बाद जहां पूरा देश जोश से भरा था, वहीं कांग्रेस मुख्यालय के भीतर जैसे कोई शोक सभा चल रही थी।

जब पाकिस्तान को सर्जिकल स्ट्राइक के बारे में जानकारी हुई, तो पाकिस्तान को जन्म देने वाले इस उपलब्धि पर विश्वास करने में आनाकानी करने लगे।” वन रैंक, वन पेंशन (ओआरओपी) पर उन्होंने कहा कि जवानों के रिश्तेदार पिछले 40 वर्षों से ओआरओपी की मांग कर रहे थे, लेकिन उनकी मांगों पर किसी के कान पर जूं तक नहीं रेंगा। उन्होंने कहा, ”हमारी सरकार के सत्ता में आने के बाद ही यह संभव हो पाया और हमने ओआरओपी मुद्दे के समाधान के लिए 600 करोड़ रुपये वितरित किए।” मोदी ने किसानों के ऋण माफ करने के कांग्रेस के दावे पर भी हमला बोला।

उन्होंने कांग्रेस के एक दिग्गज नेता द्वारा कथित रूप से सेना प्रमुख की तुलना ‘सड़क छाप गुंडे’ से करने पर अपनी नाराजगी व्यक्त की।उन्होंने सीकर व झुंझनू में लैंगिक दर में सुधार के लिए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के प्रयासों की सराहना की।राजस्थान में सात दिसंबर को नई विधानसभा के लिए मतदान होना है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.