कश्मीर में आतंकवाद के वित्तपोषण मामले में श्रीनगर, दिल्ली में NIA की छापेमारी

वित्तपोषण के संबध में शनिवार को श्रीनगर में 14 स्थानों पर जबकि दिल्ली में आठ स्थानों पर छापेमारी की।

नई दिल्ली/श्रीनगर: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने कश्मीर में आतंकवाद के वित्तपोषण के संबध में शनिवार को श्रीनगर में 14 स्थानों पर जबकि दिल्ली में आठ स्थानों पर छापेमारी की।

यह छापेमारी तीन अलगाववादी नेताओं तहरीक-ए-हुर्रियत नेता गाजी जावेद बाबा, जम्मू एंड कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) नेता फारुख अहमद डार उर्फ बिप्ता कराते और हुर्रियत नेता नईम खान के ठिकानों पर की गई।

इंडिया टुडे चैनल पर प्रचारित वीडियो में इन तीनों ने कश्मीर में तनाव बढ़ाने के लिए पाकिस्तान से धन लेने की बात स्वीकार कर ली है। अधिकारियों का कहना है कि दिल्ली में भी कई स्थानों पर छापेमारी की गई जिसमें चांदनी चौक और बल्लीमारान भी शामिल है। हुर्रियत अध्यक्ष सैयद अली गिलानी और उनके साथी हुर्रियत प्रांतीय अध्यक्ष नईम खान, डार और बाबा के खिलाफ प्राथमिक जांच के मद्देनजर यह छापेमारी की गई।

अलगाववादी नेता ने एक स्टिंग ऑपरेशन में यह स्वीकार किया है कि उन्होंने बल्लीमारान और चांदन चौक के बिचौलियों के जरिए पाकिस्तान से पैसा लिया है। एक वरिष्ठ NIA अधिकारी ने बताया, ”एलईटी प्रमुख हाफिज सईद और पाकिस्तान स्थित अन्य आतंकवादी संगठनों के खिलाफ प्राथमिक जांच को प्राथमिकी में तब्दील किया गया है।” हालांकि, इस एफआईआर में किसी भी अलगाववादी नेता का नाम नहीं है।

इंडिया टुडे के 16 मई को दिखाए स्टिंग ऑपरेशन में अलगाववादी नेता को कथित तौर पर एक रिपोर्टर को यह बताते हुए देखा जा सकता है कि उन्होंने हवाला के जरिए पाकिस्तान से पैसा लिया है। NIA ने पूछताछ के लिए इन तीनों को पहले दिल्ली भी बुलाया था। NIA ने 20 मई को 13 आरोपियों की जानकारियां इकट्ठा की थी और कश्मीर में स्कूलों और सार्वजनिक संपत्तियों में आगजनी करने वालों के खिलाफ आरोपपत्र भी दायर किया था। पुलिस का कहना है कि छापेमारी अभी जारी है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.