मेरे लिए राष्ट्र पहले; वोट बैंक बाद में: मोदी

शहंशाहपुर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वस्तु एवं सेवाकर (जीएसटी)तथा आधार कार्ड से ईमानदारी को बढावा मिलने का दावा करते हुए आज कहा कि उनके लिए राष्ट्र पहले हैं और वोट बैंक बाद में। श्री मोदी ने यहां एक रैली को सम्बोधित करते हुए कहा कि बेईमान,ईमानदारों को लूट रहे हैं।इन लुटेरों को ठीक किया जा रहा है। जीएसटी से छोटे छोटे व्यापारी जुड रहे हैं।

आधार कार्ड से भी काफी संख्या में लोग जुड़ रहे हैं। कुछ लोग ऐसे हैं जो गरीबों के सारे पैसे निगल जाते थे। उन्हें अब जनता की भलाई के लिए लगना होगा। बेईमान को ईमानदारी का रास्ता अपनाना ही होगा । वह विकास का मंत्र लेकर चल रहे हैं।

वर्ष 2022 तक देश के हर गरीब को घर दिलाने का संकल्प दोहराते हुए उन्होंने कहा कि इसके लिए वह पूरी तन्मयता से काम कर रहे हैं। राज्य की योगी सरकार भरपूर सहयोग दे रही है। उत्तर प्रदेश की पूर्ववर्ती सरकार को कई चिळियां लिखकर उन्होंने पूछा था कि कितने गरीबों के पास घर नहीं है,लेकिन उस सरकार के पास गरीबों के घर बनाने के लिए कोई सोच ही नहीं थी। बहुत दबाव डालने पर दस हजार की सूची भेजी गयी थी,लेकिन योगी सरकार ने तो लाखों लोगों का रजिस्ट्रेशन करवा दिया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वच्छता, बिजली,शौचालय,गांव को खुले में शौचमुक्त जैसी बातों के लिए पहले उदासीनता थी। उन्होंने कहा कि वह गरीबों और मध्यम वर्गीय लोगों की जिंदगी बदलना चाहते हैं।
उन्होंने कहा कि यहां पशु आरोग्य मेले का आयोजन किया गया है।

पशुओं की सेवा का संदेश दिया जा रहा है। पशु तो वोट बैंक होता नहीं।उसे कहीं वोट तो देना नहीं है। यह जानने के बावजूद वह पशुओं की सेवा में भी लगे हुए हैं,क्योंकि उनके लिए देश पहले हैं और वोट बैंक बाद में।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.