भारत ने पाकिस्तान को बताया सीमा पर बढ़ रहा है आतंक गतिविधियां

नई दिल्ली: पाकिस्तान द्वारा भारत पर संघर्ष विराम के उल्लंघन के आरोप के बाद भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि नियंत्रण रेखा के पास आतंकी गतिविधियों में लगातार बढ़ोत्तरी तथा घुसपैठ की कोशिशें हो रही हैं।

जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में मंगलवार को पाकिस्तान द्वारा किए गए संघर्ष विराम के उल्लंघन में एक भारतीय सैनिक शहीद हो गया। पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर कथित तौर पर भारतीय जवानों की ओर से ‘संघर्ष विराम’ के कथित उल्लंघन पर मंगलवार को भारत के उप-उच्चायुक्त जे पी सिंह को तलब किया और कथित तौर पर भारतीय बलों की ओर से ‘बिना उकसावे के की गई फायरिंग’ की निंदा की।

वरिष्ठ राजनयिक ने पाकिस्तान के विदेश कार्यालय को बताया कि पाकिस्तानी सेनाओं ने पहले संघर्षविराम का उल्लंघन किया, जिसके बाद भारतीय सेना ने जवाबी कार्रवाई की। भारत की ओर से पाकिस्तान को यह भी बताया गया कि सीमा पर घुसपैठ की कोशिशें लगातार बढ़ रही हैं। पाकिस्तानी कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में पाकिस्तानी सेना एलओसी पार करने में आतंकियों की मदद करते हुए, उन्हें कवर फायर दे रही है। भारत ने पाकिस्तान से यह भी कहा कि नियंत्रण रेखा के आसपास लगातार आतंकी गतिविधियों में बढ़ोत्तरी हो रही है। पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने भारत पर आरोप लगाया कि भारत की ओर से जानबूझकर नागरिकों को निशाना बनाया जा रहा है।

विदेश कार्यालय ने इसे मानवीय गरिमा तथा अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार एवं मानवाधिकार कानूनों के खिलाफ बताया। भारत और पाकिस्तान दोनों ही एक-दूसरे पर नागरिकों को निशाना बनाने का आरोप लगा रहे हैं। हालांकि आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, इस साल नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान ने अलग-अलग सेक्टरों के भारतीय गांवों को निशाना बनाया है। भारतीय अधिकारियों के मुताबिक, पाकिस्तान की ओर से संघर्ष विराम के उल्लंघन की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। सन 2016 में जहां पाकिस्तान की ओर से 228 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया गया, वहीं इस साल 31 जुलाई तक पाकिस्तान 285 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर चुका है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.