पूर्व मॉडल संगीता चटर्जी लाल चंदन तस्करी मामले में जेल

विजयवाड़ा: आंध्र प्रदेश के एक न्यायालय ने बुधवार को पूर्व विमान परिचारिका एवं मॉडल संगीता चटर्जी को लाल चंदन की तस्करी में शामिल होने के आरोप में जेल भेज दिया। संगीता (26) को मंगलवार रात को आंध्र प्रदेश की पुलिस ने कोलकाता स्थित उसके आवास से गिरफ्तार किया और चित्तूर जिले लेकर आई, जहां पकाला के न्यायालय में उसे पेश किया गया। दंडाधिकारी ने उसे 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

संगीता को चित्तूर उप-जेल में भेजा गया है। पुलिस चित्तूर जिले में दर्ज विभिन्न मामलों में उससे पूछताछ के लिए उसे हिरासत में लेने के लिए याचिका दायर करने पर विचार कर रही है। महिला पर चीन, जापान और अन्य देशों सहित भारत के छह राज्यों में लाल चंदन के तस्करी नेटवर्क को फैलाने में कथित तौर पर शामिल होने का आरोप है। चटर्जी कथित तौर पर लाल चंदन तस्कर एम. लक्ष्मण की दूसरी पत्नी है जिसे जुलाई 2014 में नेपाल से गिरफ्तार किया गया था।

मणिपुर से संबंध रखने वाला लक्ष्मण चेन्नई में बस गया। जुलाई 2014 में गिरफ्तार होने तक वह आंध्र प्रदेश के चित्तूर, कुरनूल और कडपा जिले में लाल चंदन के पेड़ों का सबसे बड़ा तस्कर माना जाता था।
पुलिस के मुताबिक, 10वीं कक्षा तक पढ़ाई करने के बाद संगीता चटर्जी टीवी विज्ञापनों में मॉडलिंग करने लगी। बाद में वह विमान परिचारिका बन गई। वह कोलकाता में लक्ष्मण के संपर्क में आई, जहां वह अपने तस्करी के धंधे को बढ़ाने के सिलसिले में आता-जाता रहता था।

लक्ष्मण की गिरफ्तारी के बाद चटर्जी ने उसके अवैध धंधों के नेटवर्क का नियंत्रण अपने हाथों में ले लिया, जिसमें करोड़ों रुपये के हवाला के जरिए लेन-देन भी शामिल थे। आंध्र पुलिस ने 2016 में कोलकाता स्थित उसके घर पर छापा मारकर संपत्ति से संबंधित कई दस्तावेज जब्त किए। स्थानीय न्यायालय द्वारा उसे जमानत देने के बाद आंध्र पुलिस का उसे कानूनी शिकंजे में लेने का प्रयास प्रभावित हुआ।

चटर्जी छह बार समन जारी होने पर भी न्यायालय के सामने पेश नहीं हुई। दिसंबर में न्यायालय ने उसके खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया था। चटर्जी के हिरासत में होने से आंध्र पुलिस को लाला चंदन तस्करी और अवैध गतिविधियों के बारे में जानकारी इकट्ठी होने की उम्मीद जगी है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.