श्रीनगर में सीआरपीएफ शिविर पर हमले की कोशिश नाकाम, जवान शहीद

श्रीनगर: श्रीनगर में सोमवार को सुरक्षा बल के एक संतरी की मुस्तैदी से केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के एक शिविर पर हमले की कोशिश को नाकाम कर दिया गया। जिसके बाद एक इमारत में छिपे आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच जारी मुठभेड़ के दौरान अर्द्धसैनिक बल का एक जवान शहीद हो गया।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि सुरक्षा बल छिपे आतंकवादियों के खिलाफ अंतिम हमले के लिए तैयार था, इसी दौरान एक जवान मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल हो गया।उसे मुठभेड़ स्थल से करीब 300 मीटर दूर स्थित एसएमएचएस अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां बाद में उसने दम तोड़ दिया।

यह वही अस्पताल है जहां से लश्कर-ए-तैयबा का पाकिस्तानी आतंकवादी नवीद जाट उर्फ अबु हंजुल्ला छह फरवरी को दो पुलिकर्मियों की हत्या कर फरार होने में कामयाब रहा था।पुलिस ने कहा कि सुरक्षा कारणों के चलते आसपास के इलाकों के घरों को खाली करा लिया गया है।आतंकवादियों के खिलाफ सीआरपीएफ और जम्मू एवं कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) के जवान अभियान चला रहे हैं।

कश्मीर पुलिस प्रमुख एस.पी. वैद ने ट्वीट कर कहा, ”श्रीनगर के करण नगर में आत्मघाती हमला टालने के लिए मैं चौकस संतरी को बधाई देता हूं। सौभाग्य से दो आतंकवादी घेराबंदी में हैं और मुठभेड़ जारी है।” इससे पहले तड़के 4.30 बजे करण नगर इलाके में सीआरपीएफ के 23वें बटालियन की निगरानी चौकी पर एक चौकस संतरी ने दो आतंकवादियों को देखा।

संतरी द्वारा गोलियां चलाए जाने से दोनों भागने पर मजबूर हो गए।इलाके में की गई खोजबीन से खुलासा हुआ कि बैग और एके-47 राइफल लिए आतंकवादी सीआरपीएफ  शिविर के पास स्थित एक इमारत में छिप गए, जिसे घेर लिया गया।छिपे हुए आतंकवादियों को जब चुनौती दी गई तो वे सुरक्षा बलों पर गोलीबारी करने लगे, जिसके बाद शुरू हुई मुठभेड़ अभी तक जारी है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.