पूर्ण राज्य के वादे के साथ आप ने दिल्ली का घोषणापत्र जारी किया

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (आप) नेता व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी का दिल्ली घोषणापत्र जारी किया। घोषणापत्र में राष्ट्रीय राजधानी को ‘पूर्ण राज्य’ का दर्जा दिलाने का वादा किया गया है। यहां पार्टी कार्यालय में जारी 35 पन्नों के घोषणापत्र का शीर्षक ‘ले कर रहेंगे पूर्ण राज्य’ है। इस अवसर पर आप नेता मनीष सिसोदिया, गोपाल राय, संजय सिंह भी मौजूद थे। दिल्ली में सत्तारूढ़ आप ने घोषणापत्र में कहा कि केवल पूर्ण राज्य का दर्जा ही दिल्ली सरकार को भूमि, कानून व व्यवस्था, पुलिस, अधिकारियों के बारे में तथा ुअन्य निर्णय लेने का अधिकार दे सकता है।
दिल्ली के मुख्यमंत्री ने एक संदेश में कहा, ”पूर्ण राज्य के दर्जे के साथ, दिल्ली के लोगों के कई सपने साकार होंगे। महिला सुरक्षा में बेहतरी होगी। दिल्ली में कानून व व्यवस्था की स्थिति बेहतर होगी।

युवाओं को रोजगार मिलेगा। 12वीं में 60 प्रतिशत से ज्यादा अंक लाने वाले सभी छात्रों को कॉलेज में दाखिला मिलेगा, दिल्ली में सीलिंग पर रोक लगाई जाएगी। दिल्ली के सभी नागरिकों के पास अपना घर होगा। कच्ची कॉलोनियों को नियमित किया जाएगा। दिल्ली एक स्वच्छ और सुंदर शहर होगा और यह विकास के पथ पर आगे बढ़ेगा।” पार्टी ने अपने घोषणापत्र में कहा कि भाजपा और कांग्रेस, दोनों दिल्ली के लिए पूर्ण राज्य का दर्जा देने के मुद्दे से बच रहीं हैं। घोषणापत्र के अनुसार, ”इसके पीछे वे कारण यह देती हैं कि उनकी सरकार दिल्ली में नहीं है।

जबकि, सच्चाई यह है कि उनके पास ऐसा करने का अवसर था, जब उनकी केंद्र और दिल्ली दोनों जगहों पर सरकारें थीं। लेकिन उन्होंने दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा देने के लिए कोई प्रभावकारी कदम नहीं उठाया। आज के समय में भी, भाजपा व कांग्रेस का पूर्ण राज्य के प्रति रवैया सही नहंी है।” केजरीवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनने से पहले दिल्ली के लिए पूर्ण राज्य का दर्जा मांगा था। आप ने कहा कि कई मुश्किलों के बावजूद, दिल्ली सरकार ने शिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली और पानी के क्षेत्र में जबरदस्त सफलता हासिल की है।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.