कांग्रेस के गायब होने से गरीबी खुद मिट जाएगी : मोदी

भुवनेश्वर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस अगर गायब हो जाएगी तो गरीबी स्वत: मिट जाएगी। उन्होंने कांग्रेस और बीजू जनता दल (बीजद) की आलोचना करते हुए कहा कि दोनों दलों ने निजी लाभ और वोट बैंक के लिए देश की जनता को गरीब बनाए रखा। प्रधानमंत्री यहां सोनपुर में एक चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे।मोदी ने कहा, ”दरअसल, कांग्रेस और बीजद को गरीबी में अपनी राजनीतिक फसल दिखती है। यही कारण है कि ओडिशा समेत देश का एक बड़ा हिस्सा कई दशकों से आर्थिक रूप से विपन्न बना हुआ है।” उन्होंने कहा कि पीढ़ी दर पीढ़ी कांग्रेस ने सिर्फ गरीबी हटाओ का नारा दिया, जबकि लोग और गरीब बनते चले गए और उनके नेता अमीर।

उन्होंने कहा, ”कांग्रेस अगर गायब हो जाएगी तो गरीबी स्वत: मिट जाएगी।” मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने एक ऐसी नीति लागू करने की योजना बनाई है, जिससे आवश्यक वस्तुओं की कीमतें बढ़ने से महंगाई में वृद्धि होगी। प्रधानमंत्री ने कहा, ”यह चुनाव तय करेगा कि हमारे भारत के नायक मजबूत बनकर उभरेंगे या पाकिस्तान का पक्ष लेने वाले लोग।” मोदी ने यहां जनसभा में जुटी भीड़ से पूछा, ”क्या आप मजबूर सरकार चाहते हैं या मजबूत सरकार।” ओडिशा में मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की अगुवाई में बीजद सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि किसानों को कम भाव पर अपनी उपज बेचनी पड़ रही है, जबकि केंद्र ने फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य उत्पादन लागत का डेढ़ गुना बढ़ा दिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोग नौकरी की तलाश में दूसरे प्रदेशों को पलायन कर रहे हैं।

मोदी ने सवालिया लहजे में कहा, ”ओडिशा मंे प्राकृतिक संसाधनों का प्रचुर भंडार है, फिर भी वह कौन-सा कारण है कि विकास के मामले में प्रदेश पिछड़ा हुआ है।” उन्होंने कहा, ”केंद्र के साथ-साथ एक बार हमारी सरकार प्रदेश में बन जाए तो ओडिशा की पहचान लोगों के पलायन की जगह पर्यटन स्थल के रूप में होगी।” उन्होंने जल संकट का मसला उठाया और कहा कि महानदी और तेल नदियों के होते हुए भी इलाके में पानी की कमी है। ओडिशा में लोकसभा चुनाव के साथ-साथ विधानसभा चुनाव भी होने जा रहा है। चार चरणों में होने वाले चुनाव के प्रथम चरण में प्रदेश की 21 लोकसभा सीटों और विधानसभा की 147 सीटों के लिए 11 अप्रैल को मतदान होगा।

 

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.