अमेरिकी वायुसेना प्रमुख ने तेजस में भरी उड़ान

जोधपुर: अमेरिकी वायुसेना प्रमुख जनरल डेविड एल गोल्डफीन ने शनिवार को जोधपुर वायुसेना अड्डे से भारत में घरेलू तकनीक से निर्मित हल्के लड़ाकू विमान (एलसीए) तेजस से उड़ान भरी।40 मिनट लंबी उड़ान के दौरान उनके साथ एयर वाइस मार्शल ए.पी. सिंह भी थे।

जनरल गोल्डफीन अमेरिका प्रशांत वायुसेना के कमांडर, जनरल टेरेंस ओशौघनेसी के साथ गुरुवार को भारत पहुंचे हैं। उनकी इस यात्रा का मकसद दोनों देशों के बीच रक्षा संबंधों को बढ़ावा देना है।उन्हें गुरुवार को साउथ ब्लॉक में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। उन्होंने अपने भारतीय समकक्ष, एयर चीफ मार्शल बी.एस. धनोआ से भी मुलाकात की और  उनके साथ द्विपक्षीय चर्चा की।

अमेरिकी वायुसेना प्रमुख, एकल सीट, एकल जेट इंजन, और बहुभूमिका वाले स्वदेशी एलसीए में उड़ान भरने वाले पहले विदेशी सेना प्रमुख हैं। तेजस को मिग-21 लड़ाकू विमान के स्थान पर सेवा में लाने की योजना है।जनरल गोल्डफीन ने ट्वीट किया कि वह दोनों वायुसेनाओं के बीच संबंधों को गहरा करने को लेकर उत्सुक हैं।

एयरोनॉटिकल डेवलपमेंट एजेंसी द्वारा स्वदेशी तकनीक से विकसित और हिन्दुतान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड द्वारा निर्मित तेजस चौथी पीढ़ी का विमान है और यह 1,350 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ सकता है, जिसमें 4,000 किलोग्राम का भार वहन करने की क्षमता है।उल्लेखनीय है कि इसके पहले वर्ष 2017 के नवंबर में सिंगापुर के रक्षामंत्री एनजी इंग हेन ने एक तेजस लड़ाकू विमान में उड़ान भरी थी।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.