खुशखबरी! RBI ने घटाई ब्याज दरें, सस्ता होगा कर्ज

नई दिल्ली: अगस्त मौद्रिक समीक्षा करते हुए केन्द्रीय रिजर्व बैंक (RBI) ने देश में कारोबारी तेजी लाने के लिए रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती का ऐलान किया है। इस कटौती के बाद देश में कर्ज देने के लिए बेस रेट 6 फीसदी पर पहुंच गया है।

बाजार के जानकारों को रेपो रेट में हुई इस कटौती की उम्मीद थी। इससे पहले अक्टूबर 2016 में केन्द्रीय बैंक ने रेपो रेट में कटौती की थी। RBI गवर्नर उर्जित पटेल की अध्यक्षता में दो दिन की मौद्रिक समीक्षा में यह फैसला लिया गया। केन्द्रीय बैंक के मुताबिक 6 सदस्यीय मौद्रीक समिति के 4 सदस्यों ने रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती करने की बात कही। वहीं एक सदस्य ने 50 बेसिस प्वाइंट कटौती करने के लिए अपना वोट दिया।

जून महीने में खुदरा महंगाई दर 1.54 फीसदी के निचले स्तर पर रही है जबकि मई महीने का औद्योगिक उत्पादन आंकड़ा 1.7 फीसदी रहा है। जून, 2017 में भारत की महंगाई दर घटकर 1.54 फीसदी रह गई। वहीं औद्योगिक उत्पादन आंकड़ों के मुताबिक मई, 2017 में फैक्टरी उत्पादन विकास दर घटकर 1.7 फीसदी रह गया, जबकि पिछले साल इसी महीने में यह आठ फीसदी था। ब्याज दरों में कटौती के पीछे महंगाई के इन आंकड़ों का अहम रोल रहा। वहीं RBI को अच्छे मानसून से देश में अच्छी पैदावार की उम्मीद बरकरार है जिसके चलते RBI ने ब्याज दरों में कटौती के लिए सही समय माना है।

RBI मौद्रिक नीति समीक्षा से ठीक पहले देश के अग्रणी उद्योग मंडल एसोचैम ने RBI से ब्याज दरों में 25 आधार अंकों की कटौती करने का आग्रह किया है। एसोचैम ने हाल ही में सामने आए उन आंकड़ों के मद्देनजर RBI से यह अनुरोध किया है, जिसके अनुसार देश की महंगाई दर पांच वर्षो के दौरान सबसे नीचे रही और फैक्टरी आउटपुट जबरदस्त रहा।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.