यौन उत्पीड़न मामला : केरल की नन अपराध शाखा की जांच के विरोध में

कोच्चि: कैथोलिक ननों के एक समूह ने बिशप द्वारा कथित रूप से एक नन का यौन उत्पीड़न करने के मामले में रविवार को अपराध शाखा की जांच का विरोध किया। समूह की एक सदस्य ने मीडिया से कहा, ”हमने सुना है कि अपराध शाखा की जांच को लेकर योजना बनाई जा रही है। यह केवल कानूनी कार्रवाई में देरी करने के लिए है। हम वर्तमान पुलिस जांच से खुश हैं। उच्च अधिकारी नहीं चाहते हैं कि हमें न्याय मिले।” कोप्तायम में शनिवार को एक कैथोलिक कॉन्वेंट से जुड़ी ननों ने, जहां से पीड़ित भी जुड़ी हुई थी, यहां ‘ज्वाइंट क्रिश्चयन काउंसिल’ द्वारा शुरू एक अनिश्चतकालीन अनशन में शामिल हुईं, ताकि राज्य सरकार पर रोमन कैथोलिक सभा के आरोपी बिशप फ्रैंको मुलाक्कल के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए दबाव डाल सके।

विरोध को आहूत इसलिए किया गया क्योंकि मामला 75 दिन पहले दर्ज होने के बावजूद पुलिस ने पीड़ित के 12 बयान लिए लेकिन आरोपी बिशप का सिर्फ एक बयान लिया गया। इस बीच केरल पुलिस प्रमुख लोकनाथ बेहरा ने जांच अपराध शाखा से कराए जाने के दावों को खारिज कर दिया है।बेहर ने रविवार को मीडिया से कहा, ”जैसा कि मामले को पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) द्वारा देखा जा रहा है, मुझे अभी भी मामले की समीक्षा करनी है। आईजी जांच में प्रगति से खुश हैं।”

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.