पीएनबी घोटाला : नीरव मोदी की 637 करोड़ रुपये की विदेशी संपत्ति जब्त

नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सोमवार को कहा कि पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले में चल रही जांच के संबंध में भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी की 637 करोड़ रुपये की विदेशी संपत्ति जब्त कर ली गई है।एक वरिष्ठ ईडी अधिकारी ने कहा कि वित्तीय जांच एजेंसी विभिन्न अंतरराष्ट्रीय स्थानों पर नीरव मोदी की विदेशी संपत्तियों की पहचान करने और जब्त करने के लिए अन्य विदेशी एजेंसियों के साथ समन्वय से काम कर रही है।जब्त संपत्ति आभूषण, बैंक खाते और अचल संपत्ति के रूप में है। अधिकारी ने यह भी कहा कि हांगकांग से 22.69 करोड़ रुपये की कीमत के हीरे के आभूषण लाए गए हैं।

ईडी के मुताबिक, जनवरी में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा नीरव मोदी के खिलाफ मामला दर्ज करने के बाद आभूषणों का एक स्टॉक हांगकांग भेजा गया था।इसे नीरव मोदी की ओर से हांगकांग में एक निजी कंपनी के वॉल्ट में रखा गया था।अधिकारी ने कहा, ”एजेंसी ने कंपनी और उसके लंदन मुख्यालय से संपर्क किया और काफी अनुरोध व मशक्कत के बाद यह सफलतापूर्वक भारत में आभूषण वापस लाने में कामयाब रहा।” उन्होंने यह भी कहा कि आभूषणों की कीमत 85 करोड़ रुपये है और आभूषणों को फायरस्टार ग्रुप ऑफ कंपनीज द्वारा हांगकांग भेजा गया था। यदि इन आभूषणों की कीमत का स्वतंत्र रूप से अनुमान लगाया जाए तो यह 22.69 करोड़ रुपये के हैं।

ईडी ने दक्षिण मुंबई में 19.5 करोड़ रुपये के फ्लैट को भी जब्त किया है, जो नीरव मोदी की बहन पूर्वी के नाम पर है, जो बेल्जियम की नागरिक हैं।अधिकारी ने कहा कि फ्लैट 2017 में पूर्वी द्वारा खरीदा गया था और इसकी पावर ऑफ अटार्नी नीरव के भाई नीशाल के पास है। इस बीच एजेंसी ने इस मामले में नीरव मोदी, पूर्वी और अन्य लोगों के पांच बैंक खातों को भी जब्त किया है। इनमें 278 करोड़ रुपये की राशि है।
इंटरपोल ने नीरव मोदी, नीशाल, पूर्वी और उनके कार्यकारी सुभाष परब के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस (आरसीएन) जारी किया है।

इंटरपोल ने सोमवार को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और ईडी के अनुरोध पर पीएनबी घोटाले में नीरव मोदी के भरोसेमंद अधिकारी आदित्य नानावटी के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस (आरसीएन) जारी किया।सीबीआई सूत्रों के मुताबिक, नीशाल के साथ नानावटी के संबंध पाए गए हैं।नानावटी हांगकांग में फायरस्टार डायमंड के कारोबार का संचालन करता था। गीतांजलि समूह के नीरव मोदी और उनके मामा मेहुल चोकसी दोनों की जांच सीबीआई और ईडी कर रही है। ईडी ने 24 और 26 मई को दोनों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया था। उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किए गए हैं।सीबीआई को घोटाले की सूचना मिलने से पहले नीरव मोदी जनवरी के पहले सप्ताह में अपने परिवार के साथ भारत से फरार हो गया था।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.