स्मिथ ने रोते हुए माफी मांगी

 सिडनी: आस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ ने गुरुवार को गेंद से छेड़खानी विवाद के लिए मांफी मांगी। बेहद उदास दिख रहे स्मिथ यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कई बार रो पड़े। उन्होंने कप्तान होने के नाते इस घटना की पूरी जिम्मेदारी ली और अपने किए पर मांफी मांगी।स्मिथ ने कहा कि बाल टेम्परिंग का यह मामला उनके नेतृत्व की नाकामी है।

स्मिथ ने कहा, ”मैं माफी मांगता हूं। आस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में मैं घटना की पूरी जिम्मेदारी स्वीकार करता हूं। मैंने फैसला लेने में बड़ी गलती की और मैं इसके नतीजों को समझ सकता हूं। मैं शर्मिंदा हूं और दिल से माफी मांगता हूं।” उन्होंने कहा, ”अच्छे लोगों से गलती होती है और मैंने ऐसा होने देकर बहुत बड़ी गलती की। मैंने जो गलती की है उसकी भरपाई के लिए मैं जो बन पड़ेगा, वो करूंगा। अगर इससे कुछ अच्छा निकल कर आ सकता है तो वह यह है कि यह दूसरों के लिए एक सीख है और मुझे उम्मीद है कि यह बदलाव का कारण बनेगा।” स्मिथ पिछले दो साल से आस्ट्रेलिया के कप्तान थे।

उन्होंने कहा, ”मैं अपने देश का प्रतिनिधित्व करने के लिए सम्मानित महसूस करता हूं। क्रिकेट मेरा जीवन रहा है और मुझे उम्मीद है कि दोबारा ऐसा होगा।” गेंद से छेड़छाड़ के मामले में मुख्य रूप से दोषी डेविड वार्नर को माना जा रहा है। इस बारे में पूछे जाने पर स्मिथ ने साफ शब्दों में वार्नर पर जिम्मेदारी थोपने से इनकार कर दिया और गलती के लिए खुद जिम्मेदारी ली।

स्मिथ ने रोते हुए कहा, ”मुझे माफ कर दें। मैं किसी और को दोष नहीं दे रहा हूं। मैं आस्ट्रेलियाई टीम का कप्तान था। यह सब मेरे सामने हुआ। मैं इस घटना की पूरी जिम्मेदारी लेता हूं।” संवाददाता सम्मेलन खत्म करने से पहले स्मिथ ने कहा, ”मैं दिल से शर्मिंदा हूं। मैं क्रिकेट को प्यार करता हूं। मैं युवा खिलाड़ियों को इस खेल के लिए प्रेरित करना चाहता हूं। मैं चाहता हूं कि बच्चे इस खेल को खेलें। यह घटना  दुख देने वाली है, काफी तकलीफ देती है। मैंने आस्ट्रेलियाई प्रशंसकों को जो दर्द दिया उसके लिए मांफी मांगता हूं।” केपटाउन टेस्ट में गेंद से छेड़खानी के विवाद के बाद क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने स्मिथ, डेविड वार्नर को 12 महीने के लिए प्रतिबंधित किया जबकि सलामी बल्लेबाज कैमरून बेनक्रॉफ्ट को नौ महीने के लिए प्रतिबंधित किया है।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में बेनक्रॉफ्ट को गेंद से छेड़खानी करते हुए कैमरे में कैद किया गया था। बाद में स्मिथ और बेनक्रॉफ्ट ने माना था कि यह टीम की योजना थी जिसमें वार्नर शामिल थे।

इस घटना के बाद सीए ने मामले की जांच की और बुधवार को इन खिलाड़ियों को सजा सुनाई। एक साल के प्रतिबंध के अलावा सीए ने कहा है कि स्मिथ प्रतिबंध खत्म होने के 12 महीने तक आस्ट्रेलिया में किसी भी टीम की कप्तानी नहीं कर सकेंगे। जबकि वार्नर आजीवन कप्तान नहीं बन सकेंगे।

सीए के इस फैसले के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी स्मिथ और वार्नर को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के इस सीजन में हिस्सा लेने से प्रतिबंधित कर दिया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.