झारखंड, ओडिशा व असम में लोकसभा चुनाव लड़ेगी तृणमूल : ममता

पुरुलिया: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को कहा कि उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस 2019 लोकसभा चुनाव में पड़ोसी राज्यों झारखंड, ओडिशा और असम की कई लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी।भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विरुद्ध हमला बोलते हुए बनर्जी ने कहा कि 2019 में भगवा पार्टी बंगाल में खाता भी नहीं खोल पाएगी और कई राज्यों में बड़ी संख्या में लोकसभा सीटों पर उसकी हार होगी।
बनर्जी ने पुरुलिया के बलरामपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, ”जो पुरुलिया, पश्चिम मिदनापुर, झारग्राम, बीरभूम जैसे बंगाल-झारखंड के सीमावर्ती जिलों में रहते हैं, उन्हें तैयार रहना चाहिए। हम झारखंड में कई लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। हम ओडिशा में कई सीटों पर चुनाव लड़ेंगे, जिसके साथ हम सीमा साझा करते हैं।” उन्होंने कहा, ”भाजपा असम से बंगालियों को भगाने की कोशिश कर रही है। असम हमारा पड़ोसी राज्य भी है।

हम असम में भी कुछ लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। हम बंगाल के अलावा इन राज्यों से चुनाव लड़ेंगे क्योंकि हम पड़ासियों के साथ अपने अच्छे रिश्ते चाहते हैं।” तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने दावा किया कि भाजपा मध्य प्रदेश और राजस्थान दोनों जगहों पर विधानसभा चुनाव में हार का सामना करेगी और इसके साथ ही 2019 में उसे केंद्र से उखाड़ फेका जाएगा।बनर्जी ने कहा, ”बंगाल में सत्ता में आने के बारे में भूल जाइए। आने वाले दिनों में उन्हें दिल्ली से भी उखाड़ फेंका जाएगा। अगर अभी झारखंड में चुनाव होगा, भाजपा को एक भी सीट नहीं मिलेगी। वे उत्तर प्रदेश, राजस्थान, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल और बंगाल में हार जाएंगे, उन्हें इस बार एक बड़ा जीरो मिलेगा।” बंगाल में कथित रूप से ‘अशांति पैदा करने के लिए घुस आए झारखंड के भाजपा समर्थकों’ को चेतावनी देते हुए बनर्जी ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो उनकी पार्टी वहां (झारखंड मं) रह रहे दलितों और जनजातीय लोगों के खिलाफ अत्याचार को रोकने के लिए प्रतिरोधक बल (रेसिस्टेंस फोर्से) बनाएगी और झारखंड में प्रवेश करेगी।

न्होंने कहा, ”हम झारखंड को प्यार करते हैं। लेकिन, भाजपा पुरुलिया में अशांति पैदा करने के लिए वहां से गुंडे ला रही है। हम झारखंड में दलितों और जनजातीय लोगों के खिलाफ अत्याचार के विरुद्ध राज्य में प्रतिरोधक बल बनाएंगे। अगर झारखंड में जनजातीय लोगों पर किसी भी प्रकार का हमला होता है, तो हम बंगाल से उनकी रक्षा करने के लिए लोगों को भेजेंगे और उनके अधिकारों के लिए लड़ेंगे।” बनर्जी ने दावा किया कि वाम पार्टियां और कांग्रेस बंगाल में भाजपा के उदय के लिए जिम्मेदार हैं और आरोप लगाया कि कुछ माकपा नेता और कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर लोगों को गुमराह करने के लिए उनकी सहायता कर रहे हैं।
उन्होंने कहा, ”माकपा राज्य में भाजपा को पांव पसारने में मदद कर रही है। माकपा कार्यकर्ता उन्हें ग्रामीण इलाकों में लोगों के दरवाजों तक ले जा रहे हैं और तृणमूल के विरुद्ध फर्जी प्रोपेगेंडा फैलाने में मदद कर रहे हैं। वाम और कांग्रेस बंगाल में भाजपा के उदय के लिए जिम्मेदार हैं।”

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.