खुद की अहमियत नहीं समझती थी : डेमी मूर

लॉस एंजेलिस: यहां ‘वीमेन रिकवरी सेंटर’ और ‘पेगी अलब्रेक्ट फ्रेंडली हाउस’ द्वारा वुमन ऑफ द ईयर पुरस्कार से सम्मानित हॉलीवुड अभिनेत्री डेमी मूर का कहना है कि एक समय ऐसा भी था जब वह खुद को लेकर पर्याप्त रूप से अच्छा महसूस नहीं किया करती थीं। वेबसाइट ‘वेराइटी डॉट कॉम’ साल 1985 में आई फिल्म ‘सेंट एल्मोस फायर’ से स्टार बनीं अभिनेत्री ने कहा कि करियर की शुरुआत में उन्हें बेहतर महसूस हुआ।

मूर ने शनिवार को कार्यक्रम में कहा, ”मैं वास्तव में अपनी बर्बादी की ओर बढ़ रही थी और इससे प्रभाविक हुए बिना कि मैंने कितनी सफलता हासिल कर ली है, मैंने बस कभी भी पर्याप्त रूप से अच्छा महसूस नहीं किया था।” फिल्म ‘घोस्ट’ की अभिनेत्री ने कहा, ”मैं बिल्कुल भी अपने आप को अहमयित नहीं देती थी और खुद को बर्बाद कर देने वाला रास्ता वास्तव में जल्द ही मुझे संकट के पड़ाव पर ले आया।” मूर ने कहा कि उसी पड़ाव पर उनके जीवन में दो ऐसे लोग आए, जिन्होंने उनका साथ दिया और उन्हें अवसर दिया, जिससे वह बेहतर कर सकीं।

अभिनेत्री ने इस बात का खुलासा नहीं किया कि वह किस तकलीफ से या क्यों ऐसे हालात से गुजरीं। उन्होंने कहा कि इससे पहले कि वह पूरी तरह से बर्बाद हो जातीं, उन्हें अपने जीवन में बेहतर तरीके से उभर कर आने का मौका मिला।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.